ख़बरबिहार

लालू के लाल की बेरोजगारी यात्रा, नीतीश कुमार के वोट बैंक में डालेंगे डाका

बिहार में इस साल चुनाव होने हैं लेकिन जहां एक और सत्तारूढ़ दल जनता दल यूनाइटेड का कार्यकर्ता सम्मेलन फ़्लॉप शो रहा वहीं विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव बेरोजगारी यात्रा पर राज्य का भ्रमण कर रहे हैं. अपने युवा क्रांति रथ पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव बिहार के समस्तीपुर के शाहपुर पटोरी में बृहस्पतिवार को थे. इस यात्रा का पूरा तानाबाना राज्य में बेरोज़गारी और बेरोज़गारों की समस्याओं को लेकर बुना गया है. इसलिए तेजस्वी हर विषय को बेरोजगारी से जोड़ते हैं.

तेजस्वी यादव सभाओं कहते हैं कि ‘हाथ उठाकर दिखाइए कि कितना लोग बेरोज़गार हैं. बिहार के मुख्यमंत्री अपना रोज़गार बचाने के लिए हैं और हम लोग बेरोज़गारों के लिए लड़ रहे हैं.’

अभी तक तेजस्वी की इन सभाओं में अच्छी ख़ासी संख्या में लोग उन्हें सुनने के लिए आ रहे हैं. माना जा रहा है कि वे राजद के परंपरागत समर्थक हैं. तेजस्वी हालांकि नए नागरिकता क़ानून पर भी बोलते हैं, लेकिन उनका अपना तर्क है. तेजस्वी यादव कहते हैं कि ‘एनआरसी लाकर, एनपीआर लाकर आप लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश की गई है.’

लेकिन तेजस्वी को मालूम है कि नीतीश के ख़िलाफ़ मुद्दों से ये मुक़ाबला करने की उनकी कोशिश उस समय तक कामयाब नहीं होगी जब तक कि नीतीश के वोटरों में वे सेंधमारी करने में कामयाब नहीं हो जाते.

Back to top button