रिया और आसिफ की मौत का राज, क्या खोल सकेंगे ‘सिंघम’ मनु महाराज ?

0
59

आरजेडी एमएलए की भतीजी रिया और उसके प्रेमी आसिफ की मौत का किस्सा जितना आसान दिख रहा है मामला उतना ही पेचीदा है. रिया और आसिफ ने क्या वाकई सुसाइड किया या इसके पीछे कोई दूसरी कहानी है? इन सवालों का जवाब अब तक नहीं तलाशा जा सका है. अब ये उलझी हुई गुत्थी मनु महाराज सुलझाएंगे. डीआईजी मनु महाराज इस केस की जांच के लिए खुद घटनास्थल पर पहुंचे हैं. मनु महाराज मौके पर पहुंचकर एक एक चीज का बारीकी से मुआयना कर रहे हैं.

मुंगेर में सदर ब्लाक के पीछे जंगल वाले जिस इलाके से रिया और आसिफ की डेड बॉडी मिली वहां पुलिस को ऐसा बहुत कुछ मिला है जो नई कहानी की तरफ इशारा कर रहा है. मौका ए वारदात पर शराब की खाली बोतलें और इस्तेमाल किया गया कंडोम भी मिला है. जमीन पर डिस्पोजेबल ग्लास भी पड़े हुए हैं जो यह बता रहे हैं कि यहां शराब पी गई थी और यूज्ड कंडोम कुछ अलग ही कहानी बयां कर रहे हैं.

अब डीआईजी मनु महाराज की कोशिश सबसे पहले इस घटना के राजदार आसिफ के दोस्त दानिश के जरिए उन लड़कों तक पहुंचने की होगी जो आसिफ और रिया की मुलाकात के दौरान उस जगह मौजूद थे.

वहीं इस मामले में एक खुलासा ये भी हुआ है कि आरजेडी एमएलए विजय कुमार विजय की भतीजी रिया और उसके प्रेमी आसिफ के बीच रिलेशनशिप की जानकारी परिवार वालों को पहले से थी. रिया और आसिफ के परिवार वाले यह बखूबी जानते थे कि दोनों के बीच कोटा में रहते हुए पिछले कई सालों से रिलेशनशिप था.

ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि अगर रिया और आसिफ के रिलेशनशिप की जानकारी सबको थी तो आखिर शुक्रवार को ऐसा क्या हुआ की दोनों ने अपनी जान दे दी? पुलिस ने इस मामले में आसिफ के दोस्त दानिश को गिरफ्तार किया है. दानिश ही वह शख्स है जिसने आसिफ को पिस्टल मुहैया कराई थी.