सरकारी नौकरी का वादा कर पति से ले गया दूर, 3 महीने रहा साथ, आबरू ली लूट

0
25

कुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सरीखा होता है. ज्यादातर ऐसी खबरें रिश्तों को शर्मसार करने वाली होती हैं, जिनके बारे में जानकर सबका सिर शर्म से झुक जाता है. अब ऐसी ही एक खबर राजस्थान के सीकर जिले से सामने आई है.  यहां सरकारी नौकरी का झांसा देकर तीन माह तक शादीशुदा युवती से दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है. युवक महिला का रिश्तेदार है. सेना में होने की धमकी देकर जयपुर में तीन माह तक दुष्कर्म करता रहा.

सिंघाना झुंझुंनूं निवासी विवाहिता ने पति व जेठ के साथ आकर कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. वह सीकर के एक निजी अस्पताल में नर्स थी और अस्पताल परिसर में ही रहती थी. उसकी भाभी की मौसी का लड़का रोशन कुमार पहचान होने के कारण आता जाता था. रोशन ने उसे सरकारी नौकरी लगाने का झांसा दिया. वह उसकी बातों में आ गई.

रोशन 6 अक्टूबर 2018 को उसके पास आया और जयपुर में सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर ले गया. विद्याधरनगर जयपुर की कृष्णा कालोनी में रोशन ने उसे तीन-चार महीने तक रखा. विवाहिता का आरोप है कि रोशन ने जबरन उसके साथ बलात्कार किया. झुंझुनूं हवाई पट्टी के पास एक दुकान में ले जाकर भी बलात्कार किया.

नौकरी नहीं लगने पर विवाहिता ने उसे घर जाने के लिए कहा. जब सेना में होने की धमकी देने लगा. उसने कहा कि तेरे परिवार को जान से मार दूंगा. विवाहिता ने बताया कि रोशन धमकी देकर उसे एक दिन जयपुर कोर्ट में ले गया. वहां पर उसने लिव इन रिलेशनशिप के कागजों पर फोटो लगवा कर हस्ताक्षर भी करवा लिए.

बाद में वापस जयपुर स्थित मकान में ले गया. विवाहिता बदनामी के डर से चुप रही. तब वह जान से मारने की धमकी देता रहा. दोनों के बीच में काफी विवाद हो गया. विवाहिता ने जयपुर में ही एल्ड्रीन पी लिया. तब उसे 18 जनवरी को इलाज के लिए दाना शिवम अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

आरोपी उसके इलाज के दौरान विवाह करने का दबाव बनाने लगा. तब उसने पति व ससुराल में फोन कर पूरी घटना की जानकारी दी. इलाज के बाद 21 जनवरी को परिजन उसे झुंझुनूं लेकर आए. अब उन्होंने पुलिस में इस पूरे प्रकरण की शिकायत दी है.