उत्तर प्रदेशख़बर

राम मंदिर पर फिर गरमाई सियासत, कही राजनीति का अखाड़ा न बन जाये अयोध्या !

Image result for उद्धव ठाकरे रविवार सुबह अयोध्या पहुंच

अयोध्या । शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे रविवार सुबह अयोध्या पहुंच गये हैं। वह सेना के नवनिर्वाचित 18 सांसदों के साथ आज रामलला का दर्शन करेंगे। शिवसेना के सभी सांसद भी अयोध्या पहुंच गये हैं। दर्शन व्यवस्था की जिम्मेदारी सम्भाल रहे प्रवक्ता सांसद संजय राउत दो दिनों से अयोध्या में जमे हुए हैं। उद्धव ठाकरे मुम्बई से अयोध्या हवाई पट्टी सुबह 8: 50 बजे पहुंचे। ठाकरे के साथ उनकी पत्नी और बच्चे भी हैं। ठाकरे हवाई पट्टी से फैजाबाद शहर के देवकाली बाईपास पर स्थित पंचशील होटल में गये हैं। वहीं पर शिवसेना के सांसद भी रूके हुए हैं। सांसदों संग उद्धव ठाकरे रामलला का दर्शन करने जाएंगे। शिवसेना के सांसद शनिवार की देर रात अयोध्या पहुंच गए हैं। सांसदों का कहना है कि वे रामलला की धरती पर आकर खुद को धन्य मानते हैं।राम जन्म भूमि में रामलला के दर्शन करने की व्याकुलता है।

धार्मिक नहीं राजनीतिक है यात्रा :   राममंदिर निर्माण के लिए आमरण अनशन कर सुर्खियों में आए तपस्वी छावनी रामघाट के महंत परमहंस दास ने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की सांसदों के संग अयोध्या यात्रा और दर्शन-पूजन राजनीति से प्रेरित दिख रहा है। वह उत्तर भारतीयों में अपना वोटबैंक मजबूत करना चाहते हैं। इसीलिए अयोध्या मुद्दा गरमा रहे हैं।
राजनीति का अखाड़ा न बने अयोध्या : अयोध्या मामले के बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या को राजनीति का अखाड़ा न बनाएं। अयोध्या में दर्शन-पूजन की आड़ में नेता राजनीतिक रोटी सेंकते हैं। शिवसेना प्रमुख पहले भी अयोध्या मसले को तूल देने का प्रयास कर चुके हैं। यह सरकार की जिम्मेदारी है कि अयोध्या में शांति कायम रहे।
रामलला का दर्शन करने के लिए है स्वागत : शिवसेना सेना के नवनिर्वाचित सांसदों के साथ रामलला का दर्शन करने आ रहे उद्धव ठाकरे का रामजन्मभूमि परिसर के मुख्य पुजारी आचार्य ने सतेंद्र दास ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि सभी को रामलला के दर्शन करने का अधिकार है।
Back to top button