राजनीति

‘रफ्तार से आ रही मंदी की रेल, अंधेरी सुरंग में नहीं है रोशनी की कोई किरण’

आर्थिक मंदी को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि, मंदी की ट्रेन तेजी से आगे बढ़ रही है. इससे पहले बुधवार को भी राहुल गांधी ने जीएसटी और नोटबंदी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा था.

एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘मिस्टर पीएम, अर्थव्यवस्था पटरी से उतर चुकी है और इस अंधेरी सुरंग में कोई रोशनी की किरण नहीं दिख रही है. अगर आपकी अक्षम वित्त मंत्री आपसे यह कह रही हैं कि रोशनी है तो मेरा यकीन कीजिए, मंदी की रेल पूरी रफ्तार के साथ आ रही है.’

राहुल गांधी ने जिस मीडिया रिपोर्ट को साझा किया है उसमें कहा गया है कि भारत की आर्थिक मंदी की रोकथाम के कोई संकेत नहीं मिल रहे हैं. 16 मैक्रोइकोनॉमिक इंडिकेटर्स में से छह जून में ग्रीन (पांच साल के एवरेज ट्रेंड से ऊपर) और आठ रेड (पांच साल के एवरेज ट्रेंड से नीचे) में थे, जबकि बाकी दो ने ट्रेंड को बनाए रखा.

कंज्यूमर इकोनॉमी इंडिकेटर में पैसेंजर व्हीकल सेल्स, ट्रैक्टर सेल्स, 2- व्हीलर सेल्स और डोमेस्टिक एयर पैसेंजर्स सभी निगेटिव है. इंडस्ट्रियल सेक्टर इंडिकेटर में पीएमआई मैन्युफैक्चरिंग ट्रेंड को बनाए हुए है. जबकि कोर ग्रोथ और रेल फ्रेट ट्रैफिक निगेटिव में चले गए हैं. बैंक नॉन-फूड क्रेडिड जरूर पॉजिटिव ट्रेंड में दिखाई दे रहा है.

एक्सटर्नल सेक्टर की बात करें तो इंपोर्ट कवर ट्रेंड में, रूपए vs डॉलर और करंट अकाउंट बैलेंस पॉजिटिव. ट्रेड बैलेंस ट्रेंड से नीचे है. ईज ऑफ लिविंग में सीपीआई, कोर सीपीआई और जॉब आउटलुक पांच साल के एवरेज ट्रेंड से ऊपर. जबकि रूरल वेज एवरेज ट्रेंड से नीचे है.

 

Back to top button