देश

राहुल की रैली में चलीं कुर्सियां, कांग्रेसियों ने आलाकमान के खिलाफ लगाए नारे

शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में आयोजित रैली में अफरा-तफरी की स्थिति हो गई. कांग्रेसी कार्यकर्ता आपसे में ही यहां से वहां कुर्सी फेंकने लगे. मंच पर राहुल गांधी के साथ पार्टी की बंगाल इकाई के अध्यक्ष सोमेन मित्रा और कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई सहित कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

मालदा के चंचल इलाके में कोलोम बागान ग्राउंड में कई लोग बैरिकेड्स लांघकर वीआईपी घेरे में पहुंच गए. इसके कारण पुलिस और कांग्रेस स्वयंसेवकों को गांधी की रैली में भीड़ को संभालने में भारी मशक्कत करनी पड़ी. कुछ लोगों को मंच के सामने स्थानीय कांग्रेस नेताओं के लिए लगाई गईं कुर्सियों को एक-दूसरे के ऊपर फेंकते देखा गया.

निकटवर्ती जिलों से यहां पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली स्थल पर समर्थकों के बैठने का उचित प्रबंध नहीं होने को लेकर पार्टी के प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ नारेबाजी की. परिसर में मौजूद राज्य कांग्रेस नेताओं और पुलिस कर्मियों ने भीड़ को शांत करने की कोशिश की, लेकिन उनकी कोशिशों का कोई फायदा नहीं हुआ और समर्थकों ने मंच के सामने वीआईपी लोगों के बैठने की जगह पर कुर्सियां फेंकनी शुरू कर दीं.

राज्य कांग्रेस के नेता अमिताभ चक्रबर्ती ने इस बात पर लीपापोती करते हुए कहा, “जगह सीमित थी. बड़ी संख्या में लोग अपने प्रिय नेता को देखने आ गए थे. हमारे स्वयंसेवकों और पुलिस ने स्थिति को संभाल लिया. कोई घायल नहीं हुआ.” पार्टी की पूर्व सांसद दीपा दासमुंशी सहित कई वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने लोगों से बैठने और शांत हो जाने की बार-बार अपील की.

Back to top button