गंगा की शरण में प्रियंका का वायरल हुआ “इंदिरा लुक”, कांग्रेस बोली- हम रिवाज नहीं बदलते

0
19

कांग्रेस की ओर से जारी की गई तस्वीर

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका वाड्रा के प्रस्तावित वाराणसी दौरे से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में चुनावी रंग गाढ़ा होने लगा हैं। वाराणसी सहित पूरे पूर्वांचल में गांव-गांव, शहर-शहर चुनावी चकल्लस ने जोर पकड़ दिया हैं। हर जगह प्रियंका वाड्रा की जलमार्ग से वाराणसी दौरे पर लोगों की निगाहें टिक गई हैं। घर से लेकर लेकर सार्वजनिक जगहों, सरकारी कार्यालयों, अर्ध सरकारी उपक्रमों में लोग प्रियंका के ग्लैमर और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के करिश्माई नेतृत्व के बारे में अपने-अपने अंदाज में बतकही में जुटे हैं। लोगों का मानना हैं कि अबकी चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मैजिक और प्रियंका वाड्रा के ग्लैमरस छवि के बीच सीधा मुकाबला दिख रहा है।

इस बीच बताते चले  प्रियंका गांधी का हेयरस्टाइल हो या फिर उनका साड़ी पहनने का तरीका, कांग्रेस के कार्यकर्ता प्रियंका गांधी में दूसरी इंदिरा ही देखते हैं. आज जब कांग्रेस महासचिव प्रयागराज में लेटे हनुमान मंदिर में पूजा कर रही थीं तो 40 साल पुरानी याद ताजा हुई. कांग्रेस ने ट्वीट कर तस्वीर भी साझा की है, जिसमें एक तरफ प्रियंका तो दूसरी तरफ इंदिरा हैं.

यूपी कांग्रेस की ओर से ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की गई, जिसमें कैप्शन दिया गया, ’परम्पराएं, रीति-रिवाज़ कभी नहीं बदलते’. कांग्रेस ने इसमें इंदिरा गांधी की लेटे हनुमान मंदिर में पूजा करते हुए तस्वीर साझा की, जो 25.9.1979 की है. दूसरी ओर प्रियंका गांधी की आज की तस्वीर है.

‘प्रियंका नहीं ये आंधी है, दूसरी इंदिरा गांधी है’

कांग्रेस के कार्यकर्ता पहले से ही प्रियंका गांधी की तुलना इंदिरा गांधी से करते आए हैं. प्रियंका गांधी की इसी छवि को कांग्रेस भी पूरी तरह से भुना रही है. कार्यकर्ताओं द्वारा कई बार पोस्टर-नारे लगाए जाते हैं ‘प्रियंका नहीं ये आंधी है, दूसरी इंदिरा गांधी है’.

सुबह ही साझा की थी तस्वीर

रविवार को प्रयागराज पहुंचीं प्रियंका गांधी ने स्वराज भवन (आनंद भवन) की एक तस्वीर जारी करते हुए पुरानी यादों का जिक्र किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि स्वराज भवन के आंगन में बैठे हुए वह कमरा दिख रहा है जहां मेरी दादी का जन्म हुआ.

देर रात किए गए इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि रात को सुलाते हुए दादी मुझे जॉन ऑफ आर्क की कहानी सुनाया करती थीं. आज भी उनके शब्द दिल में गूंजते हैं. प्रियंका ने बताया कि वो कहती थीं, निडर बनो और सब अच्छा होगा.