श्मशान पर जलने वाली थी लाश, घर में दिखा सांपों के जोड़े का नाच, हो गया चमत्कार !

0
62

और लौट आई महिला की सांसें

कुछ बाते अक्सर सोचने पर मजबूर कर देती है. क्या ऐसा भी हो सता है आज की दुनिया में अभीकुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सा  होता है. मगर जब सामने आती है तो होश तक उड़ जाते है. ऐसा ही कुछ आज हम आपको बताने जा रहे जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे.

ये बेहद चौका देने वाला मामला राजस्थान के भरतपुर से समाने आया है. यहाँ के ऐसा चमत्कार हुआ जिसे देखकर पूरे इलाके में सनसनी फ़ैल गयी. क्या आपने कभी सुना है कि  जिस इंसान को जहरीले सांप ने डस लिया हो और जिसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया हो, वही इंसान अचानक जिंदा हो जाए. चौकिये नहीं ऐसा ही यहाँ हुआ है. बता दे एक महिला को उसके घर पर एक सांप ने डस लिया.  महिला को आनन-फानन में इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां पहुंचने पर डॉक्टरों ने बताया कि महिला की मर हो चुकी है. इसके बाद महिला के अंतिम संस्कार के लिए परिजन उसका शव लेकर श्मशान घाट पहुंचे, लेकिन तभी महिला की सांसें चलने लगीं और वो उठकर खड़ी हो गई.

जानिए कैसे हुआ चमत्कार 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये मामला राजस्थान के भरतपुर जिले की शीतला कॉलोनी का है जहाँ 21 साल की एक महिला जिसका नाम श्वेता  है वो रोज की तरह सुबह के वक्त घर के काम में लगी थी कि तभी उसे एक जहरीले सांप ने काट लिया। परिजनों को जैसे ही पता चला, वो आनन-फानन में उसे लेकर भरतपुर आरबीएम चिकित्सालय पहुंचे, लेकिन यहां पहुंचने पर डॉक्टरों ने श्वेता को मृत घोषित कर दिया. श्वेता की मौत की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम मच गया और उसे अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट ले जाया गया.

श्मशान में जैसे ही श्वेता का अंतिम संस्कार किया जाने लगा कि तभी परिजनों के पास घर से फोन आया कि घर के अंदर नाग-नागिन का एक जोड़ा नाच रहा है। इसके बाद अचानक श्वेता की सांसें चलने लगीं और वो उठकर खड़ी हो गई। श्वेता को जिंदा देखकर पहले तो परिजन चौंक गए और उन्हें कुछ समझ नहीं आया, लेकिन इसके बाद उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। श्वेता को घर ले जाया गया और उसे देखने के लिए आस-पास के लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। श्वेता के जिंदा होने की खबर से परिजनों में खुशी का माहौल है और वो इसे किसी चमत्कार से कम नहीं मान रहे।