केजरीवाल पूछे- बीजेपी के खिलाफ कॉन्ट्रैक्ट लेंगे, पीके बोले- कोई शक ही नहीं

0
171

2020 की शुरुआत में होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनावों से पहले सत्तासीन आम आदमी पार्टी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर का साथ मिला है. खबर है कि प्रशांत किशोर की कंपनी I-PAC दिल्ली चुनाव में AAP के चुनाव प्रचार को संभालेगी. केजरीवाल ने ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी.

जबकि केजरीवाल के ट्वीट पर I-PAC ने जवाब दिया, ‘पंजाब के परिणामों के बाद हमने आपको सबसे कठिन प्रतिद्वंद्वी के रूप में स्वीकार किया. अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के साथ जुड़ने की खुशी है.

चुनावी राजनीति के चाणक्य के नाम से मशहूर प्रशांत किशोर को कई चुनावी जीत का श्रेय दिया जाता है. उन्होंने भाजपा और कांग्रेस दोनों के लिए काम किया है.

सबसे पहले प्रशांत किशोर तब चर्चा में आए जब 2014 के लोकसभा चुनावों के में उन्होंने नरेंद्र मोदी के प्रचार को संभाला. बीजेपी की सफलता से उन्होंने भी ऊंचाइयों को छूना शुरू कर दिया. 2015 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई वाले महागठबंधन के लिए भी काम किया था.

प्रशांत किशोर ने 2017 के विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस के लिए काम किया था और कांग्रेस को अखिलेश यादव के साथ गठबंधन करने की सलाह दी थी. लेकिन उस दौरान कांग्रेस को बुरी हार का सामना करना पड़ा था और समाजवादी पार्टी ने अपनी सत्ता गंवा दी थी.

पीके ने आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस के लिए काम किया. जिसमें वाईएसआर कांग्रेस ने इस साल 25 लोकसभा सीटों में से 22 और 175 विधानसभा सीटों में से 151 सीटों पर जीत दर्ज की. पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के लिए भी काम किया था.

फिलहाल उनकी कंपनी 2021 में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को जीत दिलाने के लिए तृणमूल कांग्रेस के लिए भी काम कर रही है.