क्राइम

पोस्टमॉर्टम हाउस के कर्मचारी बने दलाल, चंद रुपए के लिए करते है लाशों का सौदा, वीडियो वायरल 

भदोही।  जिले के पोस्टमॉर्टम हाउस में आने वाले शवों की चीर-फाड़ करने के लिए नियुक्त कर्मचारी पीड़ित परिजनों से एक हजार रुपये और अंग्रेजी शराब की मांग करते हैं। यह खुलासा सोमवार को एक मृतक के परिजनों द्वारा बनाये वीडियो से हुआ है। इस मामले से जुड़े वीडियो को देखने के बाद मुख्य चिकित्साधिकारी डा. लक्ष्मी सिंह ने जांच करके कार्यवाही करने की बात कही है।
जिले के चौरी थाना इलाके में दो दिन पूर्व सड़क दुर्घटना में एक युवक की मौत हुई थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के परिजन जब पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे तो उनका आरोप है कि चीर-फाड़ करने वाले कर्मचारी ने सुविधा शुल्क के नाम पर एक हजार रुपये और अंग्रेजी शराब की मांग की। मांग पूरा न करने पर शव की चीर-फाड़ प्रक्रिया को रोके रखा गया। परिजनों ने पोस्टमार्टम हाउस पर जुटे रिश्तेदारों से चंदा इकट्ठा कर कर्मचारी को आठ सौ रुपये और अंग्रेजी शराब वहां के वर्दीधारी को सौंपा। जब परिजन रुपये दे रहे थे, उस समय वहीं मौजूद परिवार के एक सदस्य ने सुविधा शुल्क लेने का पूरा वाकया अपने मोबाइल में कैद कर लिया।
वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि पोस्टमार्टम हाउस में सुविधा शुल्क लेने में पुलिसकर्मी भी शामिल हैं जो परिजनों से रुपये लेकर पोस्टमार्टम हाउस के कर्मचारी को दे रहा है। पोस्टमार्टम हाउस में जिस कर्मचारी ने रुपये लिए उसका नाम राजन बताया जा रहा है और वो पिछले कई वर्षों से शवों की चीर-फाड़ और सिलाई का काम करता है।
Back to top button