कह रहे मोदी की काशी के दुकानदार- ‘प्याज’ तो है नहीं..’मूली’ से काम चलायें साहेब

0
65

प्याज की बढ़ी कीमतों से आम आदमी की हकललत ख़राब हो गई है। इसका एक उदहारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी देखने को मिला। यहां एक रेस्टोरेंट मालिक ने अपने यहां एक पोस्टर लगाया है जिसमें लिखा है कि “प्याज मांगकर शर्मिंदा न करें, प्याज की जगह मूली से काम चलाएं।

वाराणसी के ग्रांड रेस्टोरेंट में वहां के मलिक ने प्याज की बढ़ी हुई कीमतो से परेशान होकर एक नया पैंतरा अपनाया है। रेस्टोरेंट के मालिक ने अपने यहां पोस्टर लगवाए हैं जिस पर लिखा है “प्याज मांगकर शर्मिंदा न करें, प्याज की जगह मूली से काम चलाएं।

रेस्टोरेंट के मालिक का कहना है कि हमारे यहां आने वाले ग्राहक खाने के साथ प्याज जरूर मांगते हैं और हम ग्राहकों को बार बार प्याज नहीं दे सकते हैं। जिससे हमारे व्यपार पर असर पड़ रहा है। उनका कहना है कि प्याज के महंगे होने के बाद से ही हमें लगातार घाटा हो रहा है।

वहीं रेस्टोरेंट में खाना खाने आए शख्स ने मोदी सरकार पर नाराजगी जताते हुए कहा कि “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अच्छे दिन लाने का वादा करते थे लेकिन प्याज महंगी होने के बाद हमारे घर में प्याज नहीं आ रहा है। गरीब आदमी काफी परेशान है क्या यही अच्छे दिन है।

ग्रांड रेस्टोरेंट के बाद अब दूसरे रेस्टोरेंट मालिक भी अपने रेस्टोरेंट में इस तरह के पोस्टर लगवाने की योजना बना रहे हैं। उनका कहना है कि प्याज के महंगे दामों के चलते उसे खरीदना मुश्किल हो रहा है।

ग्राहकों सलाद के रूप में प्याज की डिमांड करते हैं जो देना हमारे लिए घाटे का सौदा साबित हो रहा है।हम भी हमारे यहां ऐसे पोस्टर लगाकर ग्राहकों को पहले ही आगाह कर देंगे।