उत्तर प्रदेश

चुनाव से पहले भाजपा पर मंडराया संकट, मोदी की मंत्री ने दिखाए बगावती तेवर

Anupriya Patel- India TV

आगामी लोक सभा चुनाव के पहले सियासी माहौल गरमा गया है. सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. हाल में ही सपा-बासप गठबंधन के बाद यूपी में भाजपा के लिए एक बड़ी परेशानियो का दौर शुरू हो गया है. इस बीच कांग्रेस ने भी तीन राज्यों में जीत के बाद अब यूपी में आगमी लोक सभा में जीत हासिल करने के लिए अपनी बहन प्रियंका पर दांव लगाया है. इस बीच एक बड़ी खबर ने सियासत को गरमा दिया है.  बताते चले लोकसभा चुनाव के बस कुछ ही दिन शेष बचे है इस बीच भाजपा पार्टी में संकट का दौर शुरू हो गया है. बता दे पहले योगी के मंत्री राजभर और अब केंद्र सरकार की मंत्री अनुप्रिया पटेल ने बग़ावती तेवर दिखाए है।

उन्होंने कहा कि भाजपा को उन्होंने 20 फरवरी तक का समय दिया था। लेकिन भाजपा को ऐसा लगता है अपने सहयोगियों से कोई लेना देना नही है। अब अपना दल स्वतंत्र है और हमने पार्टी की बैठक बुलाई है, जो निर्णय लिया जायगा उसी के अनुसार आगे काम करेंगे। अनुप्रिया पटेल ने अलग चुनाव लड़ने के संकेत दिए है।

वही पुलवामा की घटना पर अनुप्रिया पटेल ने बोलते हुए कहा कि मुझे लगता है जब देश के ऊपर इतना गंभीर हमला हुआ हो, ऐसे वक्त में हमे एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाने के बजाय बैठकर मंथन करना चाहिए। सभी पार्टियो को एकजुट होकर सरकार के साथ खड़े होना चाहिए।

Back to top button