उत्तर प्रदेश

घर से बाहर निकले तो चालान काटकर पुलिस वापस भेजेगी घर, जानिए क्यों ?

प्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ पुलिस ट्रैफिक नियमों को लेकर सख्त हो गई है और अब अगर किसी ने भी ट्रैफिक नियमों की अनदेखी की तो उसका सीधे चालान काटा जाएगा. और नियमों का पालन आम लोगों के साथ ही अधिकारियों को भी करना पड़ेगा. सोमवार यानि 17 जून से अगर कोई भी बिना हेलमेट घर से बाहर निकलता है तो  पुलिस उसका चालान काटकर वापस घर का रास्ता दिखा देगी. एसपी ट्रैफिक पुरेन्द्र सिंह ने रविवार को एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि बिना हेलमेट आपको कहीं भी प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा.

उत्तर प्रदेश में ट्रैफिक नियमों की अनदेखी करने वालों की अब खैर नहीं. जी हां, डीजीपी की सख्त फटकार के बाद लखनऊ पुलिस एक्शन में  आ गई है. जिसका असर भी दिखाई देने  लगा है. बीते शुक्रवार से एसएसपी और एसपी ट्रैफिक ने ई -चालान की शुरूआत कर दी है. इसके तहत मौके पर ही लोगों के  चालान काटे जा रहे हैं. वहीं राजधानी में कुछ खास रूटों पर बिना हेलमेट प्रवेश पर भी रोक लगादी गई है. इन रूटों पर अब आप बिना हेलमेट दो पहिया वाहन लेकर नहीं जा सकेंगे.

उत्तरप्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने खुद साइकिल चलाकर लोगों को ट्रैफिक रूल फॉलो करने का संदेश दिया है. और हेलमेट लेकर दो पहिया वाहन चलाने को कहा है. इस अभियान में डीजीपी के साथ आलाधिकारी समेत पुलिसकर्मी मौजूद रहे . हालांकि ये कोई पहली बार नहीं है कि ट्रैफिक नियमों में बदलाव कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है इससे पूर्व में भी ऐसा बदलाव देखा गया है लेकिन कुछ समय बाद सारे नियम धरे रह जाते हैं लेकिन फिर एक बार अभियान तेजी पर है तो राजधानी की तस्वीर बदलती दिख रही है. एसएसपी कलानिधि की माने तो ट्रैफिक नियमो में कुछ महीनों पहले एक रूल लागू किया गया था नो हेलमेट नो पेट्रोल, लेकिन  ये अभियान कुछ रोज बाद कहां चला गया पता ही नहीं चला.

वहीं, इस शुक्रवार को हजरतगंज चौराहे पर एसएसपी कलानिधि नैथानी और एसपी ट्रैफिक पुरेंद्र सिंह और सीओ हजरतगंज अभय मिश्रा के नेतृत्व में ई-चालान हेतु थर्मल प्रिंटर का शुभारंभ किया गया है दिनभर चलाए गए अभियान में यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर 305 पुलिसकर्मियों का चालान काटा गया. खास बात ये रही कि इनमें 155 यातायात पुलिस लाइन से थे और 150 पुलिस लाइन से थे.

बता दें कि बिना हेलमेट गाड़ी चलाने को पूरी तरह बैन कर दिया  गया है. पहले के अगर कोई हेलमेट बिना सड़को पर उतरता था तो उसे 100 से 200 तक का चालान देना पडता था लेकिन नए नियम के तहत अब ये बढ़कर 500 रूपये हो गया है.  गौरतलब है कि लोहिया,शहीद पथ समेत कुछ ऐसे रूट हैं जहां हेलमेट  पूरी तरह से लागू किया गया है,  यहां  बिना हेलमेट एंट्री बंद है. और जिन लोगों के एक या पांच बार चालान हो चुके हैं उनके गाड़ी के रजिस्ट्रेशन कैंसिलेशन को लेकर आरटीओ अधिकारों को ट्रैफिक पुलिस की तरफ से पत्र लिखा गया है. देखना होगा कि अब ये नए नियम और अधिकारियों द्वारा चलाया जा रहा अभियान कितना कारगर साबित होता है.

Back to top button