ख़बरदेश

पीएम मोदी का देश को संबोधन, किया आचार संहिता का उल्लंघन?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर मिशन शक्ति को लेकर देश को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी के इस संबोधन को चुनाव आयोग के संज्ञान में लाया गया. मामले के चुनाव आयोग के संज्ञान में आने के बाद आयोग ने अधिकारियों की एक समिति गठित की. साथ ही समिति को निर्देश दिया है कि वह आदर्श आचार संहिता के दायरे में मामले की तुरंत जांच करें.

चुनाव आयोग ने यह कदम सीपीआई(एम) द्वारा एक लिखित शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद उठाया है. सीपीआई द्वारा पत्र में कहा गया है कि ‘यह घोषणा जारी चुनाव अभियान के बीच में आई है जहां पीएम खुद उम्मीदवार हैं. यह स्पष्ट रूप से आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है.’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश को संबोधित करते हुए बताया था कि भारत ने अंतरिक्ष कि निचली कक्षा में एक सैटेलाइट को एंटी सैटेलाइट मिसाइल से मार गिराया है. उन्होंने कहा कि भारत ऐसा करने वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है. भारत से पहले अमेरिका, रूस और चीन भी ऐसी तकनीक विकसित कर चुका है.

इस संबोधन को लेकर चुनाव आयोग ने कमेटी गठित की है, जो इस मामले में जांच करेगी. बता दें कि दो सप्ताह बाद लोकसभा के चुनाव होने हैं. चुनावों की घोषणा चुनाव आयोग ने इसी महीने के शुरुआत में कर दी थी. गौरतलब है कि चुनावों की घोषणा के बाद से ही देश में आचार संहिता लागू हो गई है.

 

Back to top button