देश

तस्वीरे : हजारो भक्त सुन रहे थे रामकथा, तूफान ने मचाया कोहराम, 14 की मौत

राजस्थान में बाड़मेर जिले के जसोल कस्बे में रविवार को एक रामकथा कार्यक्रम का पांडाल तेज अंधड़ में गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 50 के ज्यादा घायल हो गए है।

 

हजारों भक्त सुन रहे थे रामकथा, तूफान ने मचाया कोहराम, देखें Pics

बताया जा रहा है कि कुछ लोगों की मौत पांडाल में बिजली का करंट फैलने से और कुछ की मौत दम घुटने से हुई है।  पुलिस की प्रारंभिक सूचना के अनुसार बाड़मेर के जसोल में एक रामकथा का आयोजन किया गया था। रविवार दोपहर अचानक आए तेज अंधड़ के कारण आयोजन स्थल पर लगाया गया भारी भरकम वाटर प्रूफ पांडाल गिर गया, जिसमें सैकड़ों लोग दब गए। घटना के तुरंत बाद प्रशासन और पुलिस को खबर दी गई।

हजारों भक्त सुन रहे थे रामकथा, तूफान ने मचाया कोहराम, देखें Pics

वहां मौजूद लोगों ने दबे हुए लोगों को निकाल कर नजदीकी अस्पताल पहुंचाया। 13 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 50 से ज्यादा घायल हुए हैं। मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

 

हजारों भक्त सुन रहे थे रामकथा, तूफान ने मचाया कोहराम, देखें Pics

बाड़मेर हादसे को प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, जताई संवेदना

 

राजस्थान में बाड़मेर जिले के जसोल कस्बे में रविवार को आयोजित एक रामकथा कार्यक्रम के पंडाल के तेज आंधी में गिरने से हुए हादसे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बाड़मेर के सांसद एवं केन्द्रीय राज्य मंत्री कैलाश चौधरी, जोधपुर के सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने दुख प्रकट किया है। घटना में 14 लोगों की मौत हो गई तथा 50 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं।  प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विट पर कहा कि राजस्थान के बाड़मेर में रामकथा पंडाल का गिरना दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं और मैं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं।
 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जसोल में राम कथा के दौरान टेंट गिरने से हुए हादसे में बड़ी संख्या में लोगों की जान जाने की जानकारी अत्यंत दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने, शोकाकुल परिजनों को सम्बल देने की प्रार्थना है। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन द्वारा राहत एवं बचाव का कार्य किया जा रहा है। सम्बंधित अधिकारियों को हादसे की जांच करने, घायलों का शीघ्र उपचार सुनिश्चित करने तथा प्रभावितों एवं उनके परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गहरा दुःख जताते हुए मृतकों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। राजे ने भाजपा कार्यकर्ताओं से पूरे प्रकरण की जानकारी ली और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की ईश्वर से प्रार्थना की।
Back to top button