सेहत

महिला शरीर में जाकर क्या करती है पीरियड्स टालने वाली गोली, जान लेंगी तो कभी न खाएंगी

मासिक चक्र एक ऐसी प्रक्रिया है जो हर महिला और लड़की के लिए आवश्यक होती है, यह प्रक्रिया 12-13 साल की उम्र से शुरू होकर लगभग 45 से 50 साल की उम्र तक हर महीने होती है, लेकिन कभी कभी गलत समय पर पीरियड आ जाते हैं, जिन्हें टालने के लिए लड़कियां दवाइयों का सेवन करती हैं, लेकिन इन दवाओं का सेवन करने से शरीर पर कई प्रभाव पड़ते हैं, आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं.

कई बार इन दवाओं का सेवन करने से हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं, जिससे पीरियड का चक्र बिगड़ सकता है, कभी कभी तो 2 महीने तक पीरियड लेट हो जाते हैं.

मासिक चक्र का समय 28 से 30 दिन का होता है, लेकिन अगर ये चक्र बिगड़ जाये तो महिलाओं की प्रजनन प्रणाली पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

कई महिलाओं को इन दवाओं के सेवन से हैवी ब्लीडिंग की समस्या हो जाती है, इसी के साथ दर्द भी काफी तेज हो सकता है.

डायबिटीज या मोटापे की समस्या से जूझ रही महिलाओं को इन दवाओं के सेवन से रीएक्शन हो सकता है, जिससे कई समस्याएं हो सकती हैं.

इन दवाओं के सेवन से हारमोंस में तेजी से बदलाव होता है, जिससे चेहरे पर अनचाहे बालों, झुर्रियों और मुंहासों की समस्या बढ़ सकती है.

Back to top button