देशराजनीति

प्रियंका गांधी के साथ राहुल ने लगाया कुमार आशीष को, फंस गई कांग्रेस

प्रियंका गांधी के साथ कुमार आशीष को अटैच कर बुरी फंसी कांग्रेस

आगामी लोक सभा चुनाव के पहले सियासी माहौल गरमा गया है. सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. हाल में ही सपा-बासप गठबंधन के बाद यूपी में भाजपा के लिए एक बड़ी परेशानियो का दौर शुरू हो गया है. इस बीच कांग्रेस ने भी तीन राज्यों में जीत के बाद अब यूपी में आगमी लोक सभा में जीत हासिल करने के लिए अपनी बहन प्रियंका पर दांव लगाया है. इस बीच एक बड़ी खबर ने सियासत को गरमा दिया है.  आगामी लोग सभा चुनाव के बस कुछ ही दिन बचे है इस पर  बताते चले. कांग्रेस ने यूपी में प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया के सहयोग के लिए तीन-तीन सचिव नियुक्त किए हैं. जुबैर खान, कुमार आशीष और बाजीराव खाडे को सचिव की जिम्मेदारी देकर प्रियंका गांधी का सहयोग करने के लिए कहा गया. इनमें कुमार आशीष बिहार से हैं और वे यूथ कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं. लेकिन उनकी नियक्ति के साथ ही बिहार में जेडीयू हमलावर हो गई है. दरअसल करीब 14 साल पुराने पेपर लीक मामले में उनकी गिरफ्तारी की खबरें आईं थीं.

जेडीयू नेता अशोक चौधरी ने सवाल उठाते हुए कहा 

कैसे लोगों को राष्ट्रीय सचिव बनाया जा रहा है. कुमार आशीष अपराधी प्रवृति का रहा है और कई बार जेल जा चुका है.  ऐसे दागियों को प्रियंका के साथ लाया जा रहा है. गौरतलब है कि अशोक चौधरी कांग्रेस के बिहार अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

कुमार आशीष के करीबी सूत्रों के मुताबिक

राष्ट्रीय सचिव बनाकर प्रियंका के साथ जोड़े जाने से तमाम विरोधी परेशान होकर एक उस पुराने मामले को उठा रहे हैं, जिसमें उन्हें पुलिस ने गलत फंसाया था.

14 सालों तक उस केस में पुलिस कोई साक्ष्य तक पेश नहीं कर पाई, जिसके खिलाफ वो हाई कोर्ट में FIR क्वैश कराने की अर्जी लगा चुके हैं. हालांकि उस मामले के फौरन बाद आशीष NSUI के प्रदेश उपाध्यक्ष बने. बिहार प्रदेश यूथ कांग्रेस के दो बार निर्वाचित उपाध्यक्ष बने. पिछले विधानसभा चुनाव में उनको पटना से विधानसभा का टिकट भी मिला था.

Back to top button