ख़बरदेश

अमित शाह ने संसद में पास करा दिया ऐसा बिल, अब किसी भी शख्स को घोषित किया जा सकेगा ‘टेररिस्ट’

शुक्रवार को राज्यसभा में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून (UAPA) संशोधन 2019 पास हो गया है. बिल के पक्ष में 147 और विपक्ष में 42 वोट पड़े. अब राष्ट्रपति से मंजूरी मिलने के बाद ये बिल कानून बन जाएगा. इस बिल के लागू होने के बाद केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों और सरकार को संगठन के साथ किसी भी व्यक्ति को आतंकी संगठन घोषित करने और उनकी संपत्ति जब्त करने का अधिकार होगा.

बिल पर चर्चा करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि अभी तक कमजोर कानून के कारण देशद्रोहियो को सजा नहीं  मिलती थी. उन्होंने कहा कि समझौता एक्सप्रेस में आरोपी पकड़े गए, लेकिन उन्हें छोड़ दिया गया. विपक्ष ने इस कानून का गलत इस्तेमाल होने कहकर विरोध किया. इसके जवाब में शाह ने कहा कि कानूनों का गलत इस्तेमाल करने का कांग्रेस का लंबा इतिहास है. जिसके इमरजेंसी जैसे उदाहरण है.

बकौल गृहमंत्री, इस कानून के तहत मानवाधिकारों का उल्लंघन नहीं किया जाएगा. वहीं आरोपों की जांच चार स्तरों पर की जाएगी. अमित शाह ने दिग्विजय सिंह पर तंज करते हुए कहा कि मैं उनका गुस्सा समझ सकता हूं, अभी अभी हार कर आए हैं. वहीं कांग्रेस नेता पी चिंदबरम के सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि संस्था पर प्रतिबंध लाने से व्यक्ति दूसरी संस्था खोल लेता है. इसलिए व्यक्ति को आतंकी घोषित करना जरूरी है.

वैसे सदन में UAPA बिल के साथ जलियावाला बाग राष्ट्रीय स्मारक संशोधन बिल और निरसन और संशोधन बिल भी पास हो गया है. निरसन और संशोधन बिल में 58 पुराने कानूनों को खत्म करने का प्रावधान शामिल है.

 

 

Back to top button