पगला गया पूरा पाकिस्तान, बड़बोले मंत्री बोले- हमारे यहां क्रिकेट नहीं होने दे रहा हिंदुस्तान

0
6

आतंक के पनाहगार देश पाकिस्तान के मंत्री श्रीलंकाई खिलाड़ियों से झटका मिलने के बाद बौखला गए हैं. इस बौखलाहट में वह इसका दोष भारत पर मढ़ने से भी नहीं चूक रहे. अपने बेतुके बयानों के लिए मशहूर पाकिस्तान के चर्चित मंत्री फवाद हुसैन ने 10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों के पाक दौरे से नाम वापस लेने का आरोप भारत पर लगाया है. हुसैन का आरोप है कि भारत के दबाव में इन खिलाड़ियों ने अपना नाम वापस लिया है.

फवाद ने ट्वीट कर कहा, ‘कुछ जानकार स्पोर्ट्स कॉमेंटेटर्स ने मुझे बताया कि भारत ने श्रीलंका के खिलाड़ियों को धमकी दी है कि अगर उन्होंने पाकिस्तान के दौरे पर जाने से मना नहीं किया तो उन्हें आईपीएल से बाहर कर दिया जाएगा. यह वास्तव में सस्ती रणनीति है.’ उन्होंने कहा, ‘खेल से लेकर अंतरिक्ष तक, कट्टर राष्ट्रवाद कुछ ऐसा छा गया है जिसकी हमें निंदा करनी चाहिए. भारतीय अधिकारियों की यह घटिया हरकत है.’

बता दें कि सोमवार को श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए पाकिस्तान के आगामी दौरे से अपना नाम वापस ले लिया था. टी-20 कप्तान लसिथ मलिंगा और वनडे कप्तान दिमुथ करुणारत्ने सहित दस श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने अपना नाम वापस लिया है.

श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने कहा था कि राष्ट्रीय खिलाड़ियों को छह मैचों की लिमिटेड ओवर सीरीज़ के लिए सुरक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी दी गई थी. उन्हें यह तय करने की स्वतंत्रता भी दी गई थी कि वे जाना चाहते हैं या नहीं. ब्रीफिंग के बाद, 10 खिलाड़ियों ने कराची में 27 सितंबर से शुरू होने वाले तीन एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय और तीन टी-20 मैचों की सीरीज से दूर रहने का फैसला लिया.