वारिस पठान के भड़काऊ बयान पर ओवैसी का एक्शन, लेकिन हर जगह हो रही फजीहत

0
86

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता वारिस पठान के भड़काऊ बयान पर सियासत शुरू होते ही पार्टी सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने बड़ी कार्रवाई की है। असदुद्दीन ओवैसी ने वारिस पठान के मीडिया से बात करने पर रोक लगा दी है। यानी अब पठान किसी भी मीडिया पैनल या मीडिया में बाइट नहीं दे सकते हैं।

हम 15 करोड़ ही 100 करोड़ लोगों पर भारी – वारिस पठान

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ कर्नाटक के कुलबर्गी में वारिस पठान ने सभा को संबोधित करते हुए आपत्तिजनक बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ‘हम 15 करोड़ ही 100 करोड़ लोगों पर भारी हैं। जिसके बाद उनके इस बयान की कड़ी आलोचना की गई। पार्टी प्रमुख ओवैसी ने भी इस बयान की निंदा की । पठान के बयान पर सियासत भी तेज हो गई है। वहीं पठान ने सफाई देते हुए कहा कि मैंने किसी धर्म का नाम नहीं लिया और ना ही किसी के खिलाफ कुछ बोला है। पठान ने अपने बयान पर माफी तक नहीं मांगी ।

भाजपा का ओवैसी पर तंज

इधर बीजेपी ने वारिस पठान को लेकर ओवैसी को कटघरे में खड़ा किया है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि ओवैसी ने पाकिस्तान का नारा लगाने वाली लड़की का माइक तो छीन लिया..लेकिन वारिस पठान का माइक क्यों नहीं छीना। आखिर वारिस पठान को कैसी आजादी चाहिए। इससे साफ झलकता है कि वारिस पठान की नियत में खोट हैं।

तेजस्वी यादव ने कसा तंज

वहीं वारिस पठान के भड़काऊ बयान पर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी तीखा हमला बोला। तेजस्वी ने कहा कि उन्हें अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए और पुलिस को तुरंत गिरफ्तार कर लेना चाहिए।

पहले भी विवादित बयान दे चुके हैं वारिस पठान

बता दें कि वारिस पठान AIMIM के प्रवक्ता हैं और हिन्दी हार्ट लैंड में पार्टी के लोकप्रिय नेता है। इससे पहले भी पठान ने कहा था कि ‘हमने ईंट का जवाब पत्थर से देना सीख लिया है। मगर हमको एक साथ होकर रहने की जरूरत है। आखिर आजादी लेनी पड़ेगी और जो चीज मांगने से नहीं मिलती है, उसको छीन लिया जाता है।’