देश

राजस्थान-मध्य प्रदेश का सर्वे: विधानसभा जीतने का कांग्रेस को लाभ, बीजेपी को इतना नुकसान

गुरुवार को लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण का मतदान होना है. सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता लगातार चुनावी सभाएं कर रहे हैं. हर कोई मतदाताओं को अपनी ओर लुभाने में लगा हुआ है. लगातार चुनाव पूर्व के सर्वे सामने आ रहे हैं. लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर टाइम्स नाउ वीएमआर ग्रुप ने एक ओपिनियन पोल कराया है.

मध्य प्रदेश का सर्वे

मध्य प्रदेश में लोकसभा की कुल 29 सीटें हैं. पोल के मुताबिक, भाजपा के खाते में इस बार 20 सीटें आ रही हैं. बाकी 9 सीटों पर कांग्रेस बाजी मारने वाली है. भाजपा और कांग्रेस के अलावा अन्य किसी पार्टी को एमपी में कोई सीट नहीं मिल रही है.

पोल की मानें तो भाजपा को लोकसभा चुनाव 2019 में मध्य प्रदेश में 7 सीटों का नुकसान होने वाला है. ऐसा इसलिए क्योंकि भाजपा ने 2014 लोकसभा चुनाव में एमपी की 29 में से 27 सीटों पर जीत दर्ज की थी.

राजस्थान का सर्वे

राजस्थान में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं. 2014 लोकसभा चुनाव में भाजपा ने राज्य में क्लीन स्वीप किया था. यानी कि भाजपा को सभी 25 सीटों पर जीत मिली थी. भाजपा की इस ऐतिहासिक जीत के लिए मोदी लहर को जिम्मेदार माना गया था.

2014 में कांग्रेस राजस्थान में अपना खाता भी नहीं खोल पाई थी. लेकिन इस बार की स्थितियां थोड़ी बदली हैं. पोल के मुताबिक, कांग्रेस राजस्थान की 25 में से 7 सीटों पर जीत दर्ज करने जा रही है. इस प्रकार से किसी अन्य पार्टी के खाते में कोई सीट नहीं आने वाली है.

गौरतलब है कि 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में इन दोनों सूबों में कांग्रेस ने भाजपा को हरा दिया था. आज इन दोनों राज्य में कांग्रेस की ही सरकारें हैं.

Back to top button