ऑपरेशन जीरो शूटर : योगी ने तैयार करा ली है नामी शूटर्स की कुंडली, अब होगा फाइनल एक्शन

0
59

व्यवस्था के मोर्चे पर विपक्षी दलों की ओर से करारा प्रहार झेल रही यूपी सरकार ने बिगड़ी छवि को सुधारने के लिए कवायद शुरू कर दी है. योगी सरकार के निर्देश पर पुलिस में हत्या और दहशत जैसे संगीन अपराध को रोकने के लिए ऑपरेशन जीरो शूटर शुरू किया है. इस ऑपरेशन के तहत अवध क्षेत्र में कुल 14 सक्रिय सूत्रों की पहचान की है. पुलिस ने इनकी गतिविधियों पर निगरानी के साथ संपर्क क्यों और नात-रिश्तेदारों पर भी निगहवानी शुरू कर दी है.

अवध के इन चिन्हित सक्रिय शूटरों के बारे में पुख्ता सुराग देने वाले को पुलिस महकमे की ओर से ईनाम की भी घोषणा की गई है. पुलिस महकमे की कोशिश सक्रिय शूटरों को जेल की सीखचों के भीतर रखने की है.

दरअसल पुलिस ने अवध क्षेत्र में विगत कई सालों के दौरान हुए संगीन अपराधों का इतिहास खंगालना शुरू किया तो प्रकाश में आया कि अवध क्षेत्र के विभिन्न जनपदों में तमाम शूटर्स शामिल रहें हैं, जिन्होंने अपने जनपद के साथ विभिन्न जनपदों में कई संगीन अपराध किया है.

सूत्रों की मानें तो हत्या, लूट, डकैती जैसे संगीन अपराध में शामिल ऐसे सभी शूटर्स का चिन्हीकरण कर एक लिस्ट तैयार किया गया है. जिला व थाना पुलिस को इन पर लगातार विशेष सतर्क निगरानी का निर्देश दिया गया है. साथ ही पुलिस को ऐसे लोगों को भी चिन्हित करने की हिदायत दी गई है जो इनके नक्शे कदम पर अपराध की तरफ कदम बढ़ा रहे हो.

इस सूची में लखनऊ के शार्प शूटर प्रवीण दिवेदी, गोण्डा के समीर खान, अयोध्या के संजय सिंह, बस्ती के विनीत कुमार पाण्डेय, जौनपुर के राहुल यादव, सनी सिंह, सोनू सिंह, प्रिस सिहं, विध्वेंसरी प्रसाद उर्फ लवकुश तिवारी, राम सिंह यादव, सुल्तानपुर के फहीम, राकेश यादव, अमरजीत यादव, संदीप सिंह, रामसागर यादव उर्फ बजरंगी जैसों का नाम शामिल है.