अब अलीगढ़ में छात्रों का बवाल, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े, बरसाई लाठियां

0
18

अलीगढ़ । नागरिकता संशोधन कानून का विरोध रविवार की देर शाम अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भी पहुंच गया। यहां के छात्रों ने गेट से बाहर निकलकर पुलिस पर पथराव और फायरिंग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने छात्रों को समझाने की कोशिश की लेकिन छात्रों ने तुरंत पथराव व फायरिंग शुरू कर दी जिसमें विश्वविद्यालय के दो सुरक्षाकर्मी सहित कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया। इसके बाद भी उपद्रवी की आक्रामता बढ़ती जा रही है। प्रशासन ने 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं।

जिला अधिकारी और एसपी अन्य पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच गए और छात्रों को समझाने का प्रयास किया लेकिन छात्रों ने अपना उपद्रव जारी रखा। पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले छोड़े और छात्रों को काबू करने का प्रयास किया लेकिन छात्र अभी भी उपद्रव करने पर डटे हुए हैं।लगातार विश्वविद्यालय परिसर के अंदर से फायरिंग की आवाज आ रही हैंं। छात्रों ने इससे पूर्व अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के चुंगी गेट पर भी तोड़-फोड़ कर अराजकता फैलाई। पुलिस प्रशासन और छात्र आमने-सामने हैं। मौके पर पीएसी, आरआरएफ और जिले का फोर्स तैनात है लेकिन छात्रों की अराजकता अभी तक रुक नहीं रही है। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय परिसर के बाहर प्रदर्शनकारियों पर पुलिस लगातार आंसू गैस के गोले दागकर उपद्रवियों को काबू में करने की कोशिश कर रही रही है।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद ने बताया कि परिसर में स्थिति तनावपूर्ण है। कुछ लड़कों और असामाजिक तत्वों ने पथराव किया है इसलिए हमने पुलिस से स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। उन्होंने बताया कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए हमने शीतकालीन अवकाश की घोषणा की है। विश्वविद्यालय 5 जनवरी को फिर से खुलेगा और उसके बाद परीक्षाएं होंगी।

अलीगढ़ के जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रों के उपद्रव को देखते हुए अलीगढ़ शहर में रविवार की रात 10 बजे से सोमवार की रात 10 बजे तक इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं।एएमयू के गेट पर ढंगा नियंत्रण बल के साथ पीएसी, आरएएफ के साथ भारी पुलिस बल तैनात की गई है और.हालात काबू करने की कोशिश तेजी से की जा रही है।