सेहत

अब मर्द भी खा सकेंगे गर्भ निरोधक दवा, एक कैप्सूल कर देगा प्रेगनेंसी की टेंशन दूर

अब तक आपने महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियां खाते देखा- सुना होगा, लेकिन अब महिलाओं के साथ पुरुष भी बर्थ कंट्रोल कर सकेंगे. जी हां ये चौंकाने वाली बात बिल्कुल सही है. वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उन्होंने पुरुषों के लिए बर्थ कंट्रोल गोलियां विकसित की हैं, जो पूरी तरह से सुरक्षित हैं.

उन्होंने एक ऐसे कैप्सूल का परीक्षण किया है जो स्पर्म की ऐक्टिविटी को कम कर देता है और इसके साइड इफेक्ट्स भी ज्यादा नहीं होते. यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन ने 40 पुरुषों पर एक महीने तक स्टडी की. इसमें शोधकर्ताओं ने उन्हें एक कैप्सूल दिया और देखना चाहा कि जो हॉर्मोन्स टेस्टोस्टेरोन और स्पर्म के प्रॉडक्शन में मदद करते हैं, उनके स्तर को कम करने में यह कैप्सूल किस हद तक मदद करता है.

इस स्टडी में शामिल हुए 40 पुरुषों में 10 को प्लेसबो कैप्सूल दिया गया था. इसमें ऐक्टिव ड्रग नहीं होता. वहीं 30 पुरुषों को 200mg का डोज दिया गया, जबकि 16 पुरुषों को 400mg का डोज दिया गया. सभी पार्टिसिपेंट्स ने रोजाना 28 दिनों तक यह डोज लिया. पुरुषों के लिए गर्भनिरोधक गोलियों से पहले पॉपुलेशन काउंसिल और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ और ह्यूमन डेवलपमेंट के शोधकर्ताओं ने मिलकर पुरुषों के लिए बर्थ कंट्रोल जेल विकसित किया था, जो पुरुषों में स्पर्म के प्रोडक्शन को कम करने में मदद करता है.

स्टडी के जांचकर्ताओं ने बताया कि यह स्टडी काफी छोटी है,’यह स्टडी काफी छोटी है और स्पर्म प्रॉडक्शन को रोकने के लिए हमें अभी और तीन महीने का वक्त चाहिए. अभी तक हमने यह दिखाया है कि यह दवाई उन हॉर्मोंन्स को बंद कर देती है जो वीर्यकोष के फंक्शन को कंट्रोल करते हैं.’ शोधकर्ताओं ने आगे कहा कि अभी पुरुष गर्भनिरोधक गोली को मार्केट में आने में एक दशक लग सकता है. हालांकि अभी भी इसकी काफी डिमांड है. हालांकि लॉस एंजलिस बायोमेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के शोधकर्ताओं का कहना है कि ये मेल बर्थ कंट्रोल गोलियां कितनी असरकारक होंगी इसके बारे में अभी तक कुछ कहा नहीं जा सकता, लेकिन ये गोलियां पूरी तरह सुरक्षित हैं.

Back to top button