धर्म

किन्नरों को ये चीज़ें भूल कर भी ना करें दान, वरना सारी जिंदगी पछताएंगे आप

भगवान ने जब इंसान बनाए तो उनकी तीन तरह की किस्में बना दी. जिनमे से एक को पुरुष का नाम दिया, दुसरे को स्त्री का और तीसरे को किन्नर का. हालांकि, किन्नर भी हमारे ही समाज का एक हिस्सा हैं लेकिन इसके बावजूद भी लोग इन्हें घृणा की नज़रों से देक्झते चले आए हैं. किन्नर ना तो पूरी तरह से पुरुष होते हैं और ना ही स्त्री. ये इन दोनों के मेल होते हैं. बहुत से किन्नर दिखने में आम इंसान की तरह (स्त्री या पुरुष) रूप में होते हैं. किन्नर को इस दुनिया में कोई भी इज्जत की नजर से नहीं देखता. हम इंसान यह बात भूल जाते हैं कि भगवान सब इंसानों में बसते हैं लेकिन इसके बावजूद भी हम किन्नरों को इंसानियत जाती से परे मानते चले आए हैं.

जब भी किसी व्यक्ति के घर लड़का या लड़की पैदा होती है तो वह ख़ुशी मनाने के लिए झूम उठता है. मगर यदि भूल से भी किसी के घर किन्नर पैदा हो जाए तो उस घर में खुशियों की जगह मातम मनाया जाता है और समाज की नजरों से बचके किन्नर को अनाथ की तरह फेंक दिया जाता है. ये हमारे समाज में रह कर भी हमारे समाज का हिस्सा नहीं बन पाते. सबके द्वारा ठुकरा दिए जाने के बाद इन्हें अपना गुजर बसर नाच गा के करना पड़ता है. हिन्दू धर्म के शास्त्रों की माने तो एक किन्नर की दुआ में बहुत शक्ति होती है. किन्नर की आवाज़ भगवान तक जल्दी पहुँच जाती है. ठीक वैसे ही किन्नर की बद्दुआ भी किसी का जीवन नष्ट कर सकती है. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप भूल से भी किन्नर को दान में ना दें, क्यूंकि ऐसा करने से आप पाप के भागिदार बन सकते हैं जिसका खामियाजा आपको सारी जिंदगी भुगतना पड़ सकता है.

बहुत से लोग गरीबों को दान करना अपना कर्तव्य समझते हैं. ऐसे में उनके पास घर में जो भी पुरानी चीज़ें या वस्त्र होते हैं, वह दान के रूप में बाँट देते हैं. मगर शास्त्रों की माने तो हमे किसी भी किन्नर को पुराने कपडे दान नहीं करने चाहिए. ऐसा करना बेहद अशुभ माना जाता है. इससे किन्नर के आत्मसम्मान को ठेस पहुँचती है और उसकी बद्दुआ कभी हमारा पीछा नहीं छोड़ती. ऐसे में आप जब भी किन्नर को कपड़े दान करना चाहें, तो हमेशा नए खरीद कर ही दें. इससे आपकी कुंडली में राहु-केतु दोष दूर हो सकते हैं.

झाड़ू मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है. मगर एक किन्नर को जानू धारण करना अशुभ माना जाता है. ऐसा करने से हमारे घर की आर्थिक स्थिति में बिगाड़ पैदा हो सकता है. जिससे घर में हमेशा पैसों की तंगी बनी रहती है. इसलिए किन्नरों को भूल से भी ज्यादा दान ना करें और अगर आप झाड़ू दान करना ही चाहते हैं तो इसे आप मां लक्ष्मी के मंदिर में दान कर सकते हैं.

तेल का दान करने से शनि के दोष दूर होते हैं. इसलिए चुनाव को तेल का दान नहीं करना चाहिए ऐसा करने से घर में गरीबी का वास हो सकता है. अगर आप शनि दोष से बचना चाहते हैं तो किसी गरीब को तेल दान कर सकते हैं या फिर शनि देव के किसी मंदिर में चढ़ा सकते हैं.

Back to top button