उत्तर प्रदेश

जो नवाब सैकड़ो सपाइयों को लिए तोड़, वो अब कांग्रेस छोड़ भगवा सकते हैं ओढ़

Nawab Kazim Ali

अखिलेश यादव के खास और सपा के सांसद आजम खान को जल्‍द ही एक और करारा झटका लग सकता है। सूत्रों के मुताबिक रामपुर के नवाब खानदान से ताल्‍लुक रखने वाले काजिम अली उर्फ नावेद मियां उपचुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। जानकारी के मुताबिक हाल ही में उन्‍होंने सपा सांसद आजम खान के करीबी सपा नेता समेत 255 सपाइयों को अपने खेमे में मिलाया था। नावेद मियां के भाजपा में आने से जहां BJP को काफी जबरदस्त फायदा होगा, वहीं आजम खान को बड़ा नुकसान हो सकता है।

जानिए कौन है नवाब काजिम अली उर्फ नावेद मियां

जानकारी के लिए आपको बता दें कि नवाब काजिम अली खान ने 2017 का विधानसभा चुनाव स्वार से लड़ा था। मायावती की पार्टी बसपा के टिकट पर वह चुनावी मैदान में उतरे थे लेकिन सपा सांसद आजम खान के बेटे अब्‍दुल्‍ला आजम उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। काजिम अली चार बार विधायक भी रह चुके हैं। बसपा से पहले वह कांग्रेस में थे। 2017 के विधानसभा चुनाव के बाद नवाब काजिम अली एक बार‍ फिर कांग्रेस में लौट आए थे।

कांग्रेस में हैं नवाब काजिम अली

बताते चले स्‍वार टांडा से विधायक रह चुके नवाब काजिम अली उर्फ नावेद मियां इस समय कांग्रेस में हैं। उन्‍हें सपा सांसद आजम खान का धुर विरोधी माना जाता है। उन्‍होंने आजम खान के खिलाफ यूपी के राज्‍यपाल को भी पत्र लिखा था। इसके अलावा उन्‍होंने गृहमंत्री अमित शाह को भी पत्र लिखा था। इसमे उन्‍होंने अमित शाह को गृहमंत्री बनने की बधाई दी थी। इसके जवाब में अमित शाह ने उन्‍हें धन्‍यवाद दिया था। इसके बाद अच यह चर्चा चल रही है कि वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इससे रामपुर में होने वाले विधानसभा उपचुनाव में भाजपा को फायदा मिलेगा। नवाब काजिम अली की रामपुर में अच्‍छी पकड़ है।

Back to top button