Navratri 2020 : नवरात्रि में गलती से भी न करें ये काम, वरना असर पड़ेगा उल्टा

0
99

नई दिल्ली. नवरात्रि 2020 (Navratri 2020) बुधवार यानी 25 मार्च से शुरू हुई और 2 अप्रैल को रामनवमी (ramnavmi) होगी। इन 9 दिनों में भक्त शक्ति की उपासना करते हैं और बड़े ही भक्ति भाव से पूजा आराधना में डूबे रहते हैं। कहते हैं देवी मां एक बार जिस पर प्रसन्न हो जाती है उसका घर सुख समृद्धि से भर जाता है और उसके सारे दुख दूर हो जाते हैं। देवी मां के भक्तों के लिए नवरात्रि का विशेष महत्व होता है। ऐसे में जरूरी है पूजा किस ढंग से की जाए जिससे देवी मां प्रसन्न हो जाए।

– नवरात्रि (Navaratri 2019) में अगर अखंड ज्योति जला रहे हैं तो इन दिनों घर खाली छोड़कर नहीं जाएं। नहीं तो मां दुर्गा नाराज हो जाएंगीं।
-नौ दिनों तक नाखून नहीं काटने चाहिए. ऐसी मान्‍यता है कि इन दिनों नाखून काटने से व्रत का फल नहीं मिलता।
-व्रत रखने वालों को दाढ़ी-मूंछ और बाल नहीं कटवाने चाहिए. ऐसा करने वालों को भी व्रत का फल नहीं मिलता।

-अगर आप व्रत के दौरान एक टाइम भोजन करते हैं या घर में कलश स्‍थापना किए हैं और मां की पूजा करते हैं तो घर के खाने में प्याज, लहसुन और नॉन वेज पूरी तरह वर्जित है।
-नौ दिन का व्रत रखने वालों को गंदे और बिना धुले कपड़े नहीं पहनने चाहिए. कोशिश करें परिवार में कोई ऐसा नहीं करे।
-बेल्ट, चप्पल-जूते, बैग जैसी चमड़े की चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. व्रत रखने वाले लोगों को तो बिल्‍कुल नहीं।

-नौ दिन तक नींबू नहीं काटना चाहिए. इससे मां की कृपा से आप वंचित हो जाएंगे।
-व्रत में नौ दिनों तक खाने में अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।
-सबसे महत्‍वपूर्ण बात, विष्णु पुराण के अनुसार, नवरात्रि (Navaratri 2019) व्रत के समय दिन में सोना निषेध है।
-एक ही जगह पर बैठकर फलाहार ग्रहण करें।

-दुर्गा चालीसा, मंत्र या सप्तशती पढ़ रहे हैं तो पढ़ते हुए बीच में दूसरी बात बोलने या उठने की गलती कतई ना करें. इससे पाठ का फल नकारात्मक शक्तियां ले जाती हैं।
-व्रत के दौरान ब्रह्मचार्य का पालन करें. शारीरिक संबंध बनाने से व्रत का फल नहीं मिलता है।
-व्यसन से व्रत खंडित होता है. कई लोग भूख मिटाने के लिए तम्बाकू चबाते हैं यह गलती व्रत के दौरान बिलकुल ना करें।