उत्तर प्रदेश

’हलाला’ से बगावत कर बन गई हिंदू, अब परिवार है जान लेने पर उतारू

Image result for ’हलाला’ से बगावत

शौहर द्वारा तीन तलाक दिए जाने के बाद एक युवती हलाला की रस्म से समझौता न करते हुए समाज से बगावत पर उतर आई। महिला ने हिम्मत दिखाते हुए हिंदू धर्म अपनाया और अकेली रह कर अपनी गुजर-बसर करने लगी। मगर, महिला ने धर्म बदला तो परिवार के लोग ही उसकी जान के दुश्मन बन बैठे। बार-बार हो रहे हमलों और धमकियों से खौफजदा महिला हिंदू संगठनों की शरण में पहुंची। इसके बाद गुरुवार को हिंदू संगठनों के लोगों ने मवाना कोतवाली का घेराव किया तो इंस्पेक्टर ने आरोपियों को कॉल करके उनकी जमकर क्लास लगाई। बहरहाल, पुलिस ने महिला को सुरक्षा का भरोसा देते हुए उसके घर भेज दिया है।

हापुड़ निवासी युवती के अनुसार उसकी शादी मवाना कस्बे में रहने वाले उसके रिश्तेदार साजिद के साथ हुई थी। महिला का आरोप है कि कुछ समय पहले साजिद ने तीन तलाक देकर उसे घर से निकाल दिया और महिला के बच्चों को भी छीन लिया। महिला ने शौहर से खुद को अपनाए जाने की मिन्नतें कीं तो शौहर ने उसके सामने हलाला की शर्त रख दी।

जिस पर महिला ने हालात से समझौता करना गवारा न किया और हलाला की बात से साफ इंकार कर दिया। इसके बाद धर्म की दीवार को गिरा कर महिला ने हिंदू धर्म अपना लिया और कस्बे में किराए का कमरा लेकर रहने लगी। महिला का आरोप है कि हिंदू धर्म अपनाने से खफा उसके मायके और ससुराल वाले अब उसकी जान के दुश्मन बन गए हैं।

आए दिन महिला को जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं। आज सुबह भी परिवार के लोगों ने उसके घर में घुसकर उस पर हमला बोला, जिसमें वह बाल-बाल बची। जिसके बाद महिला ने हिंदू संगठनों के लोगों को घटना की जानकारी दी। मामले की जानकारी मिलने पर विश्व हिंदू परिषद के नेता सौरभ शर्मा दर्जनों कार्यकर्ताओं और पीड़ित महिला को लेकर मवाना कोतवाली पहुंचे। पूरा प्रकरण सुनने के बाद इंस्पेक्टर मवाना ने आरोपी परिजनों को कॉल करके जम कर धमकाया। इसी के साथ महिला के आसपास भी नजर न आने की नसीहत दी। पुलिस ने महिला को सुरक्षा का भरोसा देते हुए उसके घर भेजा।

Back to top button