क्राइम

महीने भर बाद जिसकी जानी थी बारात, बीस रुपये के लिए ले ली उसकी जान

हमीरपुर। जिले में बृहस्पतिवार को मौरंग खदान में बीस रुपये के विवाद में ट्रक चालक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने मौरंग खदान मालिक और मैनेजर समेत चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिये छापेमारी शुरू कर दी है।

उन्नाव जनपद के गंगाघाट का रहले वाला अरुण कुमार गौतम (22) पुत्र हरिश्चन्द्र ट्रक चालक था। वह ट्रक लेकर हमीरपुर के सिसोलर थाना क्षेत्र के भुलसी मौरंग खदान आया था। आज सुबह मौरंग खदान में खंड-3 में अरुण ने मौरंग से ट्रक को लोड कराया। खदान कर्मियों ने पचास रुपये मांगे, लेकिन अरुण ने तीस रुपये देने की बात कही। सिर्फ बीस रुपये के लिए खदान में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना की जांच में भी हत्या की वजह सिर्फ बीस रुपये का विवाद सामने आने पर पुलिस भी स्तब्ध रह गयी।

सिसोलर थाने के इंस्पेक्टर आरके पाण्डेय ने बताया कि मामले की जांच में बीस रुपये कम देने पर ट्रक चालक की गोली मारकर हत्या करने की बात सामने आयी है। उन्होंने बताया कि मृतक के पिता की तहरीर पर मौरंग खदान खंड-3 के मैनेजर मिथलेश कुमार राय, अनिरुद्ध सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह निवासी भुलसी, खदान के मालिक और एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिये पुलिस की टीम छापेमारी कर रही है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

पोस्टमार्टम हाउस में परिजनों ने बताया कि अगले माह अरुण  की शादी होनी थी। घर में शादी की तैयारियां भी चल रही थी। मृतक के चाचा अनूप पुत्र सुन्दरलाल ने बताया कि भतीजा अरुण कुमार की शादी कानपुर महानगर के अफीम कोठी में सोनम के साथ तय हुयी थी। 23 मई को गोद भरायी की रस्में हुयी थीं। ऐसे में इस घटना से शादी की तैयारियों में मातम छा गया है। वहीं दुल्हन पक्ष के घर में भी कोहराम मचा हुआ है। मृतक तीन भाईयों में मझला था।

 

Back to top button