उत्तर प्रदेश

बाहुबली मुख़्तार अंसारी के लिए बड़ी ख़बर, गठबंधन समर्थकों में दौड़ी ख़ुशी की लहर

यूपी मे जारी राजनीतिक सरगर्मियों के बीच एक बड़ी खबर बाहुबली नेता मुख़्तार अंसारी के लिए आ रही है. वह एक लंबे समय से जेल में बंद हैं लेकिन आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मुख्तार अंसारी के समर्थकों के लिए खुशी की खबर यह है कि उन्हें हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिल गयी है, जो उनके और उनके समर्थकों के लिए किसी तोहफे से कम नहीं है.

दरअसल रामसिंह मौर्य और कांस्टेबल सतीश सिंह की ह’त्या के मामले में न्यायमूर्ति सुनित कुमार की एकल खंडपीठ ने बुधवार को सुनवाई के बाद मुख्तार अंसारी को ज़मानत दे दी है.आप को बता दें कि इससे पहले कोर्ट में उनकी जमानत याचिका कई बार खारिज की जा चुकी थी.यहां तक कि मुख़्तार अंसारी की मां के नि’धन के वक्त भी उन्हें जमानत नहीं दी गई थी.जिसके कारण वह अपनी माँ के ज’नाज़े मे भी शरीक नहीं हो सके थे. मुख्तार अंसारी की जमानत की खबर सुनते ही इलाके में उनके समर्थकों के बीच खुशी की लहर दौड़ पड़ी है. इस वक़्त मुख्तार अंसारी मऊ सदर से विधायक हैं.

बताया जा रहा है कि ज़मानत की खबर इलाके में फैलने के बाद मुख्तार अंसारी के समर्थकों में जश्न का माहौल बन गया है और उनके पैतृक आवास मोहम्दाबाद यूसुफपुर में उनके समर्थकों द्वारा मिठाइयां बांटी गई हैं. उनके घर पर लगातार लोगों का आना जाना लगा हुआ है.इस दौरान मुख़्तार अंसारी के पुत्र अब्बास अंसारी ने पिता को मिली जमानत पर खुशी व्यक्त हुए कहा है कि यह आम जनता, गरीब और मज़लूमों द्वारा की गई दुआओं का ही नतीजा है कि उनके लिए यह खुशी की खबर सामने आयी है.

उल्लेखनीय है कि मुख्तार अंसारी को ज़मानत मिलना बहुजन समाज पार्टी के लिए भी एक बड़ी खबर है.उनकी जमानत की खबरों के बाद ये चर्चा शुरू हो गई कि बसपा मुख़्तार अंसारी को लोकसभा टिकट दे सकती है. इस समय वह बसपा के टिकट से ही मऊ के विधायक हैं. आप को बता दें कि मुख्तार अंसारी ने 1996,2002, 2007, 2012, और 2017 विधानसभा चुनाव मे मऊ की सदर सीट से लगातार जीतने का कारनामा करके दिखाया है. मुख्तार अंसारी के बारे में कहा जा रहा है कि वो आने वाले लोकसभा चुनाव में महागठबंधन के लिए काफ़ी वोट जुटा सकते हैं.

Back to top button