धर्म

ऐसे लोगो के पास कभी नहीं रुकता धन, कड़ी मेहनत के बाद भी बने रहते है कंगाल..

कहते हैं घर की बेटी और बहू लक्ष्मी का रूप होती हैं. ये बात बिलकुल सत्य हैं. घर में बेटी का होना मतलब साक्षात लक्ष्मी जा प्रवेश माना जाता हैं. ये बेटियां बेटों से भी ज्यादा सुख और सम्रद्धि घर वालो को देती हैं. जहाँ एक तरफ घर की बेटी शादी के बाद विदा होकर चली जाती हैं तो वहीँ दूसरी और किसी दुसरे की बेटी हमारे घर बहू बनकर प्रवेश करती हैं. इस तरह हमारे घर में लक्ष्मी का वास हमेशा बना रहता हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि कई बार घर की बेटी, बहू, माँ या कोई अन्य महिला कुछ ऐसी बुरी आदतों में लीन हो जाती हैं कि लक्ष्मी माँ उनसे रुष्ट हो जाती हैं और वो उस घर में प्रवेश करने से हिचकिचाती हैं.

रामचरितमानस में भगवान् राम जी के बारे में वर्णन है और साथ में ही इनमे ऐसी बहुत सी बातें बताई गयी है जो आज के योग के लोगो पर लागू होता है इस हिन्दू ग्रन्थ के अनुसार बताया गया है की कड़ी मेहनत करने के बाद भी इन चार तरह के लोगो के पास कभी पैसा नहीं ठहरता है। इन चीज़ो को जानने के बाद आप भी अपने जीवन की आदतों में सुधार कर सकते है और इन रहस्यों को जान कर अपने जीवन में धन की बरसात कर सकते है।

आओ जानते है कौन कौन है वो चार तरह के लोग :-

पहला

पहले में वो लोग आते है जो धन के बहुत हे लालची होते है और हमेश बस धन हे कमाने की चाह रखते है और थोड़े समय बाद ही ये लोग धन कमाने से वंचित रह जाते है। रामचरितमानस के अनुसार धन के पीछे भागने वाले लोगो को कभी भी धन की प्राप्ति नहीं हो सकती है और एक बहुत हे मशहूर कहावत है ” लालच बुरी बाला है ”

दूसरा

दूसरे प्रकार में वो लोग आते है जिनकी नियत काम करने में काम और पैसे में जयदा होती है और अपने सपनो को चाहते हुए भी किसी कारणवश पूरा करने में असमर्थ रहते है। नौकरी पेशे में आलसी और बेईमान लोग कभी तरक्की नहीं कर पाते।

तीसरा

तीसरे में उन लोगो की गिनती होती है जो दुसरो की इज़्ज़त नहीं करते है और खुद को ही सबसे श्रेष्ट मानते है इनके ऐसे अनुचित व्यवहार के कारण ही ये लोग धन को अर्जित करने से वंचित रह जाते है साथ ही साथ अपने घमंड में रहने की वजह से दुसरो के साथ मेल जोल नहीं बना पाते है।

चौथा

चौथे लोग वो है जो नशा करते है चोरी करते है और लड़कियों की बुरी आदत रखते है और इन्ही चीज़ो की गिरफ्त में रहते है कभी बहार नहीं निकल पाते पूरी ज़िंदगी इनकी इन्ही चीज़ो को पाने में निकल जाती है और कभी धन नहीं बचा पाते और धन की कमी रहती है।

रामचरितमानस केवल राम जी के जीवन के बारे में नहीं बताता बल्कि आज के सांसारिक युग के बारे में भी बताता है ये एक बहुत ही सुलझा हुआ ग्रन्थ है जिसको समझने के बाद लोग अपने जीवन को उच्च बना सकते है।

Back to top button