खेल

हैट्रिक लगाकर भी मैन ऑफ द मैच नहीं चुने गए शमी, वजह ये तो नहीं ?

मोहम्मद शमी को इस विश्व कप में कल पहली बार खेलने का मौका मिला. अफगानिस्तान के खिलाफ उन्होंने इस वर्ल्डकप की पहली हैट्रिक भी लगाई. शमी की अगुवाई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से भारत ने अफगानिस्तान को 11 रन से हराकर सेमीफाइनल की ओर कदम रख दिए. लेकिन हैट्रिक लेने के बावजूद शमी को नहीं मिला मैन ऑफ द मैच, बल्कि बुमराह को मैन ऑफ द मैच दिया गया. सवाल है कि ऐसा क्यों, तो जवाब भी जान लीजिए

दरअसल, शमी ने भले ही हैट्रिक समेत 4 विकेट लिए हों लेकिन इस मैच का असली पासा जसप्रीत बुमराह ने ही पलटा. अफगानिस्तान की ओर से रहमत शाह और हशमतुल्लाह शाहिदी तीसरे विकेट के लिए अच्छी साझेदारी कर रहे थे.

दोनों बल्लेबाज धीरे-धीरे मैच को भारत से दूर ले जा रहे थे. यहीं पर बुमराह ने एक ही ओवर में ऐसा जादू बिखेरा कि अफगान टीम हैरान रह गई.बुमराह ने पहले रहमत शाह को अपनी बाउंसर से शिकार बनाया. दो गेंद बाद बुमराह ने हशमतुल्लाह शाहिदी को भी आउट कर भारत की मैच में वापसी करा दी.

इसके बाद 49वें ओवर में जब अफगानिस्तान को 12 गेंद में 21 रन चाहिए थे तो बुमराह ने ओवर में सिर्फ 5 रन दिए. बड़ी बात ये थी कि बुमराह ने इस ओवर की हर गेंद यॉर्कर फेंकी, जिसकी वजह से क्रीज पर जमे बल्लेबाज मोहम्मद नबी इस ओवर में एक भी बाउंड्री नहीं लगा पाए.

बुमराह ने अपने 10 ओवर में सिर्फ 39 रन दिए और उन्होंने 60 गेंद में सिर्फ 2 बाउंड्री दी. बुमराह ने एक छक्का और एक चौका दिया. उन्होंने पूरे मैच में एक भी वाइड और नो बॉल नहीं फेंकी.

 

Back to top button