देश

विधायक जी को लोकसभा टिकट नहीं मिला, पार्टी दफ्तर से उठवा ले गए कुर्सियां !

देश में चुनावी माहौल बना हुआ है। टिकट नहीं मिलने पर नेताओं की नाराजगी साफ तौर पर दिखाई दे रही है। नाराज नेता पार्टी छोड़ रहे है या निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर रहे हैं। इधर महाराष्ट्र के औरंगाबाद में अलग ही मामला सामने आया है। लोकसभा का टिकट नहीं मिलने पर कांग्रेस विधायक अब्दुल सत्तार ने पार्टी कार्यालय से 300 कुर्सियां उठवा लीं है। सिलोद विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक अब्दुल सत्तार ने पार्टी से इस्तीफा भी दे दिया है।

विधायक सत्तार ने कहा कि कुर्सियों पर उनका मालिकाना हक है, इसलिए उन्होंने उठवा लीं। बता दें कांग्रेस की लोकल यूनिट ने अपने कार्यालय गांधी भवन में सहयोगी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ बैठक बुलाई थी। बैठक से पहले सत्तार अपने समर्थकों के साथ दफ्तर पहुंचे और कुर्सियां निकलवा लीं। कुर्सियां न होने के कारण बैठक बाद में एनसीपी के कार्यालय में हुई।

अब्दुल सत्तार को उम्मीद थी कि पार्टी उन्हें औरंगाबाद सीट से लोकसभा का टिकट देगी, लेकिन पार्टी ने विधान परिषद सदस्य सुभाष झंबाद को टिकट दे दिया। सत्तार ने कहा, कुर्सियां मेरी थीं। मैंने कांग्रेस की बैठकों के लिए मुहैया कराया था। अब मैं पार्टी में नहीं हूं इसलिए कुर्सियां ले ली। अब जिनको टिकट मिला है, वह कुर्सियों का बंदोबस्त करें।

विधायक ने कांग्रेस पर दबाव बनाने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से शनिवार को मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद पत्रकारों से चर्चा में सत्तार ने कहा था कि मैं औरंगाबाद सीट से निर्दलीय चुनाव लडूंगा। सत्तार ने कहा कि मैं भाजपा में शामिल नहीं होऊंगा। मैं मुख्यमंत्री के पास आभार प्रकट करने गया था। उन्होंने मेरे विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए साढ़े चार साल में काफी निधि दी है।

Back to top button