अफसोस ! मैकडॉनल्ड्स अब नहीं बेचेगा आपकी पसंद के ये प्रोडक्ट्स

0
46

मैकडोनाल्ड

भारत में सबकी पसंदीदा अमेरिका की फास्ट फूड चेन मैकडोनाल्ड  के अपने 13 स्टोर्स दिल्ली-एनसीआर में दोबारा ओपन किये  हैं। लेकिन आपको बता दे मैकडोनाल्ड ने अपने स्टोरों में कई उत्पाद हटा दिए हैं।  बर्गर के शौकीनों के लिए  है। दिल्ली में जो 13 स्टोर्स दोबारा खोले गए हैं, उन स्टोर में अब मैक आलू और ग्रिल्ड चिकन रैप जैसे कुछ लोकप्रिय उत्पाद नहीं मिलेंगे। अपने भागीदार विक्रम बक्शी के साथ कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट प्राइवेट लि. (सीपीआरएल) के अधिग्रहण का करार करने के बाद मैकडॉनल्ड्स ने इन स्टोरों को दोबारा शुरू किया है।

अब मैकडोनाल्ड में नहीं मिलेंगे ये उत्पाद

अमेरिका की फास्ट फूड चेन मैकडोनाल्ड  की दी गयी जानकारी के अनुसार इसके अलावा, मैकडोनाल्ड  ने अपने मेन्यु से माजा बेवरेजेज को भी हटा दिया है। मैकडॉनल्ड्स के एशिया के लिए निदेशक (कॉरपोरेट रिलेशंस) बैरी सम ने कहा, ‘विभिन्न क्षेत्रों में मैकडॉनल्ड्स इंडिया के अनुभव को बेहतर करने के लिए हमने स्थायी रूप से कुछ कम लोकप्रिय उत्पाद हटा दिए हैं। इनमें मैकआलू रैप, चिकन मैकग्रिल, एग रैप, ग्रिल्ड चिकन रैप और माजा बेवरेजेज। शेष मेन्यु में कोई बदलाव नहीं किया गया है।’

क्या है पूरा मामला

अमेरिका की फास्ट फूड चेन मैकडोनाल्ड  से मिली जानकारी के अनुसार आपको बताते चले   विक्रम बख्शी के स्वामित्व वाली कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट में काफी लंबे समय से विवाद चल रहा था। इसके मद्देनजर मैकडोनाल्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (MIPL) ने अदालत के बाहर समझौता किया। समझौते के अनुसार अब एमआईपीएल ने हिस्सेदारी खरीदने का फैसला किया है। इससे पहले जॉइंट वेंचर वाली कंपनी कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट्स लिमिटेड (CPRL) इन सभी आउटलेट्स का संचालन कर रही थी। समझौते के बाद दिल्ली में मैकडोनाल्ड के कई स्टोर बंद हो गए थे। लेकिन अब 13 स्टोर दोबारा खुल गए हैं।

1995 में शुरू की थी कंपनी

आपको बता दें कि साल 1995 में विक्रम बख्शी और मैकडॉनल्ड्स ने 50-50 फीसदी की हिस्‍सेदारी के साथ एक ज्वाइंट वेंचर बनाया था और इस वेंचर से अपने बिजनेस की एक नई शुरुआत की थी। इस वेंचर का नाम कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट लि यानी CPRL रखा गया था, लेकिन दोनों लोगों के बीच यह समझौता लगभग 25 साल तक के लिए किया गया था। जब दोनों ने ज्‍वाइंट वेंचर में काम करना शुरू किया तो मैकडॉनल्ड के नाम से देश के उत्तरी और पूर्वी क्षेत्र में भी अपनी सेल को बढ़ाने के लिए विक्रम बख्शी को जिम्मेदारी दी गई थी, जिसके बाद भारत में मैकडॉनल्ड्स के कई जगह पर सेंटर खोले गए और जब भारते के लोगों ने इसको पसंद किया तो सभी जगहों पर इसके सेंटर को बढ़ावा दिया गया और आज के समय में भारत में मैकडॉनल्ड्स के बर्गर की दीवनगी बढ़ती ही जा रही है।