अटकलें खत्म : ‘फूलपुर’ उपचुनाव लड़ेंगी कुमारी ‘मायावती’, ये होगा चुनाव चिन्ह

यूपी की हाई प्रोफाइल फूलपुर सीट से सांसद प्रदेश के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बहुत जल्द इस सीट को खाली करने वाले हैं. राजनीतिक गलियारों में इन दिनों यह चर्चा गर्म है कि दलितों का मुद्दा उठाकर राज्यसभा से हाल ही में इस्तीफा देने वालीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती इस सीट से उपचुनाव लड़ सकती हैं. उन्हें विपक्ष की तरफ से संयुक्त उम्मीदवार बनाया जा सकता है. लेकिन बीजेपी को नहीं लगता कि मायावती इस सीट से चुनाव लड़कर अपने राजनीतिक करियर को जोखिम में डालना चाहेंगी.

फूलपुर का उपचुनाव लड़ेंगी मायावती

अब इस सब अटकलों के बीच इलाहाबाद से खबर आ रही है कि कुमारी मायावती फूलपुर लोकसभा चुनाव लड़ने का मन बना चुकी हैं और उन्होंने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है. हालांकि यह मायावती यूपी की पूर्व सीएम और बीएसपी सुप्रीमो नहीं बल्कि चौधरी अजीत सिंह की पार्टी आरएलडी की नेता हैं. उन्हे भी लोग बहनजी कहकर बुलाते हैं.

हालांकि  वह चौधरी अजीत सिंह की पार्टी आरएलडी की नेता है. उसकी उम्र महज 27 साल है और उसने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई की हुई है. दलित परिवार में जन्मी यह मायावती इलाहाबाद शहर से करीब 75 किलोमीटर दूर कोरांव इलाके के एक छोटे से गांव की रहने वाली है. उसके पिता की जूते – चप्पलों की गुमटी है. मायावती दो साल पहले आरएलडी के टिकट पर ज़िला पंचायत का चुनाव भी लड़ चुकी है. करीब पचास हजार वोटरों वाले इस चुनाव में उन्हे महज सात वोटों से हार का सामना करना पड़ा था.