मायावती की मोदी को खुली चुनौती, लोकतंत्र में भरोसा है तो बैलेट पेपर से हो चुनाव

उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव के नतीजों ने बीएसपी में नए प्राण फूंक दिए हैं. बीएसपी को दो मेयर की सीटों पर जीत मिली है. अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा पर निशाना साधा है. उन्होंने पीएम मोदी को चुनौती देते हुए कहा कि अगर भाजपा ईमानदर है और लोकतंत्र में विश्वास करती है तो ईवीएम मशीनों की जगह बैलट पेपर से चुनाव कराए.

2019 में लागू हो बैलेट

Advertisement

मायावती ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 में होना है, ऐसे में अगर भाजपा को भरोसा है कि जनता उसके साथ है तो उन्हें बैलेट पेपर की व्यवस्था को 2019 के चुनाव में लागू करना चाहिए. मैं इस बात की गारंटी दे सकती हूं कि अगर बैलेट पेपर का इस्तेमाल होता है तो बीजेपी सत्ता में नहीं आएगी.

advt

 

ईवीएम की वजह से हारे थे चुनाव

मायावती ने कहा कि ईवीएम की वजह से ही हम यूपी के विधानसभा चुनाव में हार गए थे, लेकिन एक बार फिर से निकाय चुनाव ने साबित कर दिया है कि हमारे वोटर मजबूती के साथ हमारे साथ खड़े हैं. अगर भाजपा लोकतंत्र में भरोसा करती है और उसे अपने मतदाता पर भरोसा है तो 2019 के लोकसभा चुनाव बैलेट पेपर से कराए.

बैलेट से हुआ चुनाव तो बीजेपी हारेगी

मायावती ने भाजपा पर आरोप लगाया कि उसने जानबूझकर निकाय चुनाव देरी से कराए. मायावदी ने निकाय चुनाव में पार्टी के बेहतर प्रदर्शन पर खुशी जताते हुए कहा कि मैं पूरी यकीन से कहती हैं कि अगर बैलेट पेपर से चुनाव हो तो बीजेपी कभी जीत नहीं पाएगी. यूपी के निकाय चुनाव में कुल 16 मेयर सीटों में से 2 सीटों पर बसपा को जीत हासिल हुई है.