ख़बरदेश

सबसे नया सर्वे : बिहार में NDA की बल्ले-बल्ले, पिछली बार से भी ज्यादा सीटें !

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पहले दौर का मतदान होने ही वाला है. देश अगले 5 साल के लिए अपनी सरकार चुनेगा. चारों ओर सियासी गहमागहमी चरम पर है. हर कोई वोटर्स को अपने पाले में लाने की पूरी कोशिश में लगा है. ऐसे में लगातार अलग-अलग सर्वे एजेंसियां और न्यूज चैनल्स जनता का मूड भांपने के लिए ओपिनियन पोल कर रहे हैं. ऐसा ही एक ओपिनियन पोल हिंदी न्यूज चैनल टीवी9 भारतवर्ष और सर्वे एजेंसी सी-वोटर ने मिलकर किया है, जिसके नतीजे काफी चौंकाने वाले हैं.

ओपिनियन पोल के मुताबिक बिहार में एनडीए को भारी फायदा होता हुआ दिखाई दे रहा है. सर्वे के मुताबिक 40 में से 36 सीटें एनडीए के खाते में जा सकती है. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) की अगुआई में महागठबंधन मात्र चार सीटों पर सिमटता हुआ दिखाई दे रहा है.

ओपिनियन पोल (Opinion Poll) के मुताबिक 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए का वोट प्रतिशत 52.6 प्रतिशत रहने की संभावना है जबकि महागठबंधन को 40.8 फीसदी वोट मिलने की संभावना जताई गई है. इस आधार पर  एनडीए को 36 और महागठबंधन को चार सीटें मिलने की संभावना है.

इस लिहाज से  भारतीय जनता पार्टी और जनता दल (यूनाईटेड) का दोबारा साथ लौटना एनडीए के लिए फायदेमंद साबित होता दिखाई दे रहा है. लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) एनडीए की तीसरी सहयोगी पार्टी है.

मोदी लहर में 2014 में एनडीए को 31 सीटें ही मिली थीं. पिछले चुनाव में बीजेपी ने अकेले 22 सीटें जीती थीं. लोजपा ने छह और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के खाते में तीन सीटें गई थीं. इस बार जेडीयू के साथ आने से समीकरण बदले हैं. बीजेपी और जेडीयू 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

उधर महागठबंधन में आरजेडी 20, कांग्रेस – 9, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम)-3, विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी)-3 और रालोसपा पांच सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

Back to top button