राजनीति

मैं चौकीदार हूं : जनता के पैसों पर पंजा नहीं पड़ने दूंगा : PM मोदी

नयी दिल्ली.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए आज खुद को देश का सजग चौकीदार करार दिया और कहा कि उनके रहते जनता के पैसों पर कोई पंजा नहीं डाल सकता।

 

मोदी ने यहां तालकटोरा स्टेडियम से देश के पांच सौ से ज्यादा स्थानों पर ‘मैं भी चौकीदार हूं अभियान’ की शुरुआत करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी सरकार ने सख्त कदम उठाया है और जिसने भी गलत काम किया है वह बच नहीं सकता है। उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार पर शिकंजा कसा है और उनके चौकीदार होते हुए देश को कोई नहीं लूट सकता है।
उन्होंने कहा कि देश की जनता इस चौकीदार को पसंद करती है।

देखे ये विडियो

 

 

इस चौकीदार पर देश की जनता का भरोसा है इसलिए यह चौकीदार कोई भ्रष्टाचार नहीं होने देगा और किसी भ्रष्टाचारी का पंजा देश की जनता के पैसे पर नहीं पड़ने देगा। उन्होंने कहा कि समाज के लिए काम करने वाला हर व्यक्ति चौकीदार होता है और चौकीदार किसी चौखट से बंधा नहीं होता है।

 

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की जनता को राजा महाराजाओं की जरूरत नहीं होती है बल्कि एक चौकीदार ही चाहिए और वह चौकीदार का दायित्व निभाने का प्रयास कर रहे हैं। देश के 125 करोड लोगों ने इस चौकीदार को भरपूर प्यार दिया है और अब देश की जनता चाहती है कि यही चौकीदार फिर देश चलाए।

 

जनता के पैसे पर पंजा नहीं पड़ने दूंगा- PM मोदी

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में मैं भी चौकीदार अभियान की शुरूआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 2013 में उन्होंने कहा था कि उनकी ये कोशिश रहेगी कि वे जनता के पैसे पर पंजा नहीं पड़ने देंगे. पीएम ने कहा, “एक चौकीदार के रूप में मैं अपनी जिम्मेदारी निभाऊंगा, 2014 में भाजपा ने मुझे दायित्व दिया उसके बाद मुझे देश के कौने कौने में जाने की नौबत आयी, तब मैंने देश के लोगों से कहा थी कि आप दिल्ली का दायित्व जो मुझे दे रहे हैं उ

 

मैं भी चौकीदार कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- लाइव अपडेट्स:

 

 कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चुनावी वादे देने वाले लोग आजकल रेवड़ियां बांट रहे हैं। पहली बार वोट देने वालों से मैं कहना चाहता हूं कि वादे करने वालों का आप ट्रेक रिकॉर्ड देखिए, उनके टेप रिकॉर्डर को मत सुनिए।

  • पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि जो झूठ बोलता है तो उसके लिए पहली शर्त होती है कि उसकी मेमोरी पावर तेज होनी चाहिए। लेकिन वो एक दिन एक आंकड़ा बोले, दिन अगले दिन दूसरा, उनकी झूठ की फैक्ट्री उन्हें पकड़ा देती है की इस झूठ को चलाइये। लेकिन मेमोरी पावर कम होने के कारण वो पकडे जाते हैं।
  • संवाद के दौरान एक सवाल के जवाब में प्रधानमंत्री ने एंटी सैटेलाइट मिसाइल ‘मिशन शक्ति’ का विवरण दिया। उन्होंने कहा, ‘मिशन शक्ति के द्वारा हमारे देश के वैज्ञानिकों ने वो शक्ति हासिल की है। जो हमसे पहले दुनिया के केवल 3 देशों के पास थी। हमारे कुछ नेता कहते हैं कि इसे सीक्रेट रखना चाहिए था। जब अमेरिका, चीन और रूस ने डंके कि चोट पर किया तो हम गुपचुप क्यों करें।’
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीरव मोदी और विजय माल्या पर टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि जिन्होंने देश को लूटा है, उन्हें पाई-पाई लौटानी पड़ेगी। 2014 से सारी चीजें इकट्ठा करना और समेटने का काम मैं कर रहा हूं।
    आपकी मदद से जेल के दरवाजे तक तो मैं इन लोगों को ले गया, कुछ जमानत पर हैं और कुछ डेट मांग रहे हैं। कुछ लोग विदेश की अदालतों में कहते हैं कि भारत की जेलों की स्थिति अच्छी नहीं है। अब इनको कोई महल में थोड़ी रखेगा। अंग्रेजों ने गांधी जी को जिस जेल में रखा था, मैं उनको उससे अच्छी जेल नहीं दे सकता।
  • एयर स्ट्राइक पर बोलते हुए पीएम ने कहा बालाकोट मैंने नहीं किया। देश के जवानों ने किया है, हमारे सुरक्षा बलों ने किया है। इसलिए हम सबकी तरफ से उन्हें सैल्यूट है। पाकिस्तान को लगता होगा की मोदी चुनाव में व्यस्त होंगे तो शायद कुछ करेगा नहीं। मेरे लिए चुनाव प्राथमिकता नहीं है, देश प्राथमिकता है।
  • पीएम ने कहा कि हर व्यक्ति के अपने सपने, अपनी इच्छाएं होती हैं। वो होनी भी चाहिए, लेकिन हम तय करें कि सबसे ऊपर देश हो। इससे हम सारी समस्याओं का समाधान निकाल लेंगे।
  • एक अध्यापक अपना कर्तव्य निभाता है तो विद्यार्थी का भविष्य बादल जाता है। एक पुलिस वाला अपना कर्तव्य निभाता है तो समस्याओं का समाधान अपने आप हो जाता है और उस अर्थ में हमारे देश में मुझे जो सफलता मिली है उसका मूल कारण जन भागीदारी है।
  • देश की जनता फिर से एक बार हमे देश की सेवा करने का मौका देने वाली है। मुझे खुशी है कि देश का युवा दूरदर्शिता रखते हैं। हम राजनेता तो अभी 11 को क्या होगा या 21 को क्या होगा इसी में लगे पड़े हैं और आप शपथ के विषय में सोच रहे हैं।
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की जनता को राजा-महाराजा की ज़रूरत नहीं है। देश की जनता को हुकुमदारों की ज़रूरत नहीं है बल्कि देश की जनता चौकीदार को पसंद करती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यक्रम में मौजूद छात्रों और लोगों से संवाद भी कर रहे हैं।
Back to top button