2019 के लिए भाजपा ने कसी कमर, मोदी ने पदाधिकारियों को दिया जीत का मंत्र

लोकसभा चुनाव

नईं दिल्ली। 2014 से शुरू हुआ मोदी सरकार का सफर अब अपने आखिरी चरण में पहुंच चुका है। 29 जनवरी से शुरू हो रहे संसद के बजट सत्र में जहां मोदी सरकार अपना अंतिम पूर्ण बजट पेश करेगी वहीं दूसरी तरफ भाजपा ने 2019 के आम चुनाव के लिए भी अपनी तैयारी को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है।

Advertisement

2019 के आम चुनावों और साल के शुरुआत में होने जा रहे चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा की तैयारियों की समीक्षा की गरज से प्राधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाटा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और भाजपा के सभी महासचिवों एवं राज्य प्राभारियों को गुरुवार को प्राधानमंत्री निवास में भोजन पर आमंत्रित किया। प्राधानमंत्री शाह और पाटा के इन आला पदाधिकारियों के बीच यह बैठक लगभग दो घंटे चली।

advt

 

भाजपा के आला नेताओं की मानें तो यह बैठक नववर्ष एवं मकर संक्रांति की पूर्व संध्या पर बुलाईं गईं अनौपचारिक बैठक थी परन्तु सूत्रों की मानें तो प्राधानमंत्री ने बैठक में जहां जीत का गुरुमंत्र दिया वहीं चुनावी राज्यों में पाटा की तैयारियों का जायजा लिया साथ ही सरकार का काम आम लोगों तक किस स्तर तक पहुंचा है इसका भी जायजा लिया।

दरअसल भाजपा 2019 में पहली बार वोट करने जा रहे युवाओं को लुभाने के लिए पूरा जोर लगा रही है। भाजपा 25 जनवरी से 10 फरवरी तक मिलेनियम वोटर अभियान चलाने जा रही है। इसका जिम्मा पाटा के युवा मोर्चा को सौंपा गया है। इसमें खासकर 18 साल पूरा करने वाले किशोर मतदाताओं को जोड़ने का अभियान चलाया जाएगा। इसी तरह 12 जनवरी विवेकानंद जयंती से 23 जनवरी सुभाष चंद्र बोस जयंती तक स्वयंसेवी रक्तदाताओं की सूची बनाईं जाएगी।