राजनीति

आडवाणी को टिकट कटने का गम नहीं, नाराजगी तो इस बात की है !

2019 लोकसभा चुनाव में गांधी नगर लोकसभा सीट से टिकट काटे जाने के चलते लाल कृष्‍ण आडवाणी नाराज हैं. उनके करीबी ने कहा, ‘टिकट काटा जाना कोई बहुत बड़ा मुद्दा नहीं है, लेकिन जिस प्रकार से यह सब किया गया है, वह तरीका अपमानजनक है.’ सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के किसी शीर्ष नेता ने उनसे संपर्क तक नहीं किया.

बीजेपी ने गांधीनगर लोकसभा सीट से आडवाणी की जगह पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह को टिकट दिया गया है. एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, उम्‍मीदवारों की लिस्‍ट फाइनल होने से पहले बीजेपी के नेशनल जनरल सेक्रेटरी राम लाल ने वरिष्‍ठ नेताओं से संपर्क कर उनसे रिटायरमेंट लेने की घोषणा करने को कहा था.

अंदर की खबर यह है कि आडवाणी से भी ऐसा ही करने को कहा था, लेकिन उन्‍होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया. 91 साल के हो चुके आडवाणी ने कहा कि उनसे रिटायरमेंट के बारे में बात करने के लिए किसी वरिष्‍ठ नेता को उनसे संपर्क तो करना चाहिए था.

दरअसल बीजेपी ने 75 वर्ष से ज्‍यादा उम्र के नेताओं को लेकर एक पॉलिसी बनाई है. आडवाणी के अलावा कई और ऐसे नेता हैं, जिनकी उम्र 75 से ज्‍यादा है. इनमें मुरली मनोहर जोशी, सुमित्रा महाजन जैसे नेताओं के भी नाम शामिल हैं. इनकी सीटों पर अभी तक उम्‍मीदवारों के नाम का ऐलान नहीं हुआ है.

Back to top button