क्राइम

ये गाड़ी बन गई बिहार की ‘लेडी सिंघम’ के लिए मुसीबत, जानिए कैसे आई ये आफत

बाहुबली विधायक अनंत सिंह को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाकर चर्चा में आई बाढ़ की एएसपी लिपि सिंह फंस सकती हैं. दरअसल आईपीएस अधिकारी लिपि सिंह राज्यसभा की स्टीकर लगी गाड़ी से विधायक अनंत सिंह के ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए साकेत कोर्ट गई थीं. उस कार में कोर्ट पहुंचने के बाद बवाल मच गया था.

मीडिया में खबर आने के बाद जेडीयू ने हालांकि लिपि सिंह का बचाव किया था लेकिन अनंत सिंह को अब बड़ा हथियार मिल गया है. अनंत सिंह के वकील ने मंगलवार को लोकसभा और राज्यसभा के महासचिव को पत्र भेजकर एमपी कार पार्किंग लेबल और कार का कथित दुरुपयोग के मामले में लापरवाही की जांच करने की मांग कर दी है.

बता दें कि घर से एके 47 रायफल के साथ अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में विधायक अनंत सिंह फरार चल रहे थे. लेकिन 23 अगस्त को उन्होंने दिल्ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर कर दिया था. इसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. अनंत सिंह को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए सांसद के स्टिकर लगी गाड़ी से अनंत सिंह केस की आईओ सह बाढ़ की एएसपी लिपि सिंह कोर्ट पहुंची थीं.

बताया जाता है कि उन्होंने जेडीयू एमएलसी रणवीर नंदन की सफारी गाड़ी का उपयोग किया था.अब इस मामले में अहम मोड़ आ गया है. अनंत सिंह के वकील ज्ञानेश्वर मिश्रा ने उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष, प्रधान मंत्री, गृह मंत्री, आचार समिति के अध्यक्ष को पत्र लिखकर जांच की मांग की है.

 

Back to top button