सेहत

सुबह सुबह पीते हैं नींबू-पानी तो सावधान, ऐसा करने वालों की किडनी हो सकती है खराब

ज्यादातर लोग सुबह उठते ही नींबू-पानी पीते हैं। पानी में नींबू निचोड़कर पीने से शरीर को विटमिन सी, पोटाशियम और फाइबर मिलता है। नींबू को विभिन्न विटामिन्स और मिनरल्स का खजाना माना जाता है और रोज सुबह नींबू-पानी पीने से कई तरह के लाभ होते हैं। ज्यादातर लोग अपना वजन घटाने के लिए गुनगुने पानी में नींबू और शहद मिलाकर पीते हैं। हालांकि बहुत कम ही लोगों को पता है कि इसका ज्यादा सेवन करने से कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकता हैं। ज्यादा नींबू पानी पीने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है और डीहाइड्रेशन की समस्या बढ़ सकती है, इसके अलावा अन्य कई समस्याएं भी हो सकती हैं। इसलिए अगर आप भी नींबू-पानी का सेवन करते हैं तो जा संभल जाएं।

नींबू-पानी

डाॅक्टरों को मानना है कि अगर किसी को अक्सर ही गैस या एसिडिटी की समस्या रहती है तो उन्हें खाली पेट नींबू पानी के सेवन से बचना चाहिए। असल मे नींबू में एसिडिक गुण पाए जाते हैं जो इस समस्या को और बढ़ा देते हैं। नींबू में असिडिक लेवल के अलावा उसमें ऑक्सलेट भी होता है, जो कि ज्यादा सेवन से शरीर में जा कर क्रिस्टल बन सकता है। ये क्रिस्टलाइज्ड ऑक्सलेट, किडनी स्टोन और गॉलस्टोन का रूप ले सकता है।

नींबू पीने के बाद ब्रश न करे

नींबू पानी पीने के तुरंत बाद ब्रश ना करें क्योंकि नींबू में सिट्रस ऐसिड होता है, जिसका दांतों में ज्यादा संपर्क होने से दांत संवेदनशील हो जाते हैं। एसिड की वजह से दांत कमजोर हो जाते हैं, इसलिए ब्रश करने से दांतो के टूटने का डर रहता है। दिन में एक से दो गिलास नींबू पानी ही पिएं, ज्यादा नींबू पानी पीने से यूरीन ज्यादा आता है जिस वजह से डिहाइड्रेशन की समस्या बढ़ जाती है। कई बार लोग खाना पचाने के लिए नींबू के रस का सेवन करते हैं क्योंकि इसका ऐसिड पाचन में मदद करता है। पर पेट में ज्यादा ऐसिड हो जाने की वजह से पेट खराब हो सकता है। नींबू को हमेशा खाने में मिलाकर ही खाएं।

Back to top button