उत्तर प्रदेश

महिला वकील ने कलेक्ट्रेट में डाला डेरा, खुले आसमान के नीचे जलाया चूल्हा, लेकिन क्यों?

ये खबर उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले से सामने आई है. यहां एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश की अधिवक्ता बहन ने अपने भाई के परिवार को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर में डेरा डाल दिया और डीएम दफ्तर के बाहर पार्क में चूल्हा जलाकर खाना बनाना शुरू कर दिया. जिला प्रशासन को जैसे ही पूरे मामले की खबर मिली तो प्रशासनिक अफसर मौके पर पहुंचे ओर डेरा डाले हिस्ट्रीशीटर के परिवार को खदेड़ने लगे.

ऊपर दी गई तस्वीर अमरोहा के डीएम दफ्तर की हैं जहां चूल्हा जलाकर खाना बनाता एक परिवार नजर आ रहा है. जमीन पर बैठे खाना खा रहे हैं और धुंआ उठता नजर आ रहा है.एक महिला वकील अपनी पोशाक पहने खड़ी नजर आ रही है और महिला वकील से मुखातिब प्रशासनिक अफसर नजर आ रहे हैं. कर्मचारी उन्हें बाहर का रास्ता दिखा रहे हैं पर महिला वकील और उसका परिवार सुनने को तैयार नहीं है. प्रशासनिक अफसरों ने महिला पुलिस को भी बुला लिया है और अब इस परिवार को परिसर से बाहर जाने की चेतावनी दी. जिस पर महिला आत्मदाह की धमकी देने लगी.

दरअसल हसनपुर थाना इलाके के रुखालू गांव का रहने वाला विनोद हिस्ट्रीशीटर बदमाश है. जिसका परिवार गांव में रहता है. काफी दिनों से फरार चल रहे बदमाश को जब पुलिस ने गिरफ्तार करने की कोशिश की तो बदमाश पुलिस से मारपीट करके फरार हो गया. पुलिस ने बदमाश के घर की कुर्की कर ली और उसके परिजन घर छोडकर फरार हो गए. उसके बाद पुलिस ने घर को सीज कर दिया और पुलिस ने बदमाश को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया.

अब बदमाश की पत्नी और बदमाश की बहन जो वकालत करती है, हिस्ट्रीशीटर के बच्चों को लेकर डीएम के कार्यालय पहुंची और वहीं पर लकड़ियां जमा करके खाना पकाना शुरू कर दिया. कलेक्ट्रेट परिसर से उठते धुएं को देखकर हड़कंप मच गया और प्रशासनिक अफसर मौके पर पहुंच गए. परिवार को बाहर का रास्ता दिखाया पर इस बीच परिवार गांव जाने को तैयार नहीं था और आत्मदाह की धमकी दे रहा था.

 

Back to top button