ख़बरदेश

जानिए किस नेता के प्रस्ताव पर सोनिया गाँधी को बनाया गया अंतरिम अध्यक्ष

Image result for जानिए किस नेता के प्रस्ताव पर सोनिया गाँधी को बनाया गया अंतरिम अध्यक्ष

नयी दिल्ली. कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारिक संस्था कार्य समिति ने शनिवार देर रात पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी को सर्वसम्मति से अंतरिम अध्यक्ष बनाने का फैसला लिया जिसे सोनिया गांधी ने इसे स्वीकार कर लिया है। कार्य समिति की आज दो बार हुई बैठक के बाद पार्टी महासचिव के सी वेणुगोपाल तथा मीडिया प्रभारी रणदीपसिंह सुरजेवाला ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कार्य समिति की पहले सुबह बैठक हुई थी जिसमें  राहुल गांधी से अध्यक्ष पद पर बने रहने का सर्वसम्मति से अनुरोध किया गया था , लेकिन वह अपने इस्तीफे पर कायम रहे।

जानकारी के लिए बताते चले इसके बाद पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष पद के लिए सोनिया गांधी का नाम प्रस्तावित किया. तब सीडब्ल्यूसी ने सोनिया को अंतरिम अध्यक्ष बनाने का निर्णय लिया।

पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम (IANS)

कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक में पहले सोनिया गांधी ने अंतरिम अध्यक्ष बनने से इनकार कर दिया था, लेकिन बाद में नेताओं के कहने पर वह अंतरिम अध्यक्ष बनने के लिए तैयार हो गईं। अब कांग्रेस के नए अध्यक्ष चुने जाने तक सोनिया गांधी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष रहेंगी। इससे पहले सोनिया गांधी साल 1998-2017 तक पार्टी की कमान संभाल चुकी हैं।

बता दे पांच उप समितियां गठित कर उनसे नये अध्यक्ष के बारे में विचारविमर्श करने और इस संबंध में रात आठ बजे तक रिपोर्ट देने को कहा गया था। उपसमितियों ने प्रदेश इकाइयों के अध्यक्षों, विधायक दलों के नेताओं, पार्टी के महासचिवों तथा उसके लोकसभा और राज्यसभा के सदस्यों तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं से विचारविमर्श किया और सभी ने कार्य समिति को अपनी रिपोर्ट सौंपी। उन्होंने बताया कि सभी उपसमितियों ने  राहुल गांधी को पद पर बने रहने की फिर से अनुरोध करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद कार्य समिति ने प्रस्ताव पारित कर राहुल गांधी से अनुरोध किया कि वह पार्टी के हर नेता और प्रतिनिधि की इच्छा के अनुरूप अपना इस्तीफा वापस ले लें , लेकिन उन्होंने इस अनुरोध को विनम्रता से ठुकरा दिया। राहुल गांधी  ने कहा कि जवाबदेही की कड़ी उनसे ही शुरू होनी चाहिए इसलिए वह अध्यक्ष पद पर नहीं रहेंगे। राहुल गांधी  ने 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दिया था।

Back to top button