धर्म

किन्नर को दान देते हुए जिसने बोले ये 2 शब्द, वो कभी नहीं झेलेगा पैसों की किल्लत !

हमारे देश में कई प्रकार की जाती और संस्कृति और परम्पराएं है। वही हमारे देश में दान देने और दछिना देने की भी प्रथा है। लेकिन आज हम किन्नर समुदाय से जुड़ी एक ऐसी बात बताने वाले है जिसे जानकर आप भी फायदा उठा सकते है।

आप को बता दे की किन्नर समुदाय दान या दछिना लेने और मांगने में सबसे आगे रहते है। अब चाहे किसी के घर में शुभ मौका हो या अशुभ मौका हो किसी भी मौके पर दछिना मांगने से पीछे नहीं हटते है। वही पड़ितों का मानना है की किन्नरों को कभी भी भूलकर भी नाराज नहीं करना चाहिए।

किन्नरों को दिया गया दान अछय पुण्य प्रदान करता है। इनकी दुआएं ब्यक्ति हो हर विपरीत परिस्थिति से बचा लेती है। यदि आप पैसो की समस्या से मुक्ति पाना चाहते है तो किसी भी किन्नर से एक रुपये का सिक्का वापस ले लें। यदि किन्नर अपनी खुसी से आपको सिक्का दे देता है तो उसे हरे कपड़े में लपेट कर अपने पर्स में रखे या तिजोरी में रखें। ऐसा करने से आपकी धन संबंधी परेशानी दूर होने लगेगी।

इस बात का हमलोगो को ध्यान रखना चाहिए की किन्नर आपके दरवाजे से कभी उदास या दुखी होकर न जाये। जब भी किन्नर को पैसे दिए जाते है तो वो हम सब को बहुत सी दुआएं देता है। ऐसा माना जाता है की किन्नर के मुँह से निकली दुआएं बहुत हमारे लिए लाभकारी होती है। लेकिन आप को बता दे की इनकी दुआए जितनी असरदार होती है। उससे कही ज्यादा इनकी बदुआए खतरनाक होती है इसलिए इनको कभी निराश नहीं करना चाहिए।

जब भी कोई किन्नर आपसे पैसे मांगे तो यही कोसिस करनी चाहिए की जितना जल्द हो सके उसे पैसे दे दिया जाये ऐसे में जब किन्नर को आप पैसे देते है और वो आपके घर से जा रहा होता है तो आप उसे सिर्फ दो जादुई शब्द बोले। जिससे आपको लाखों का फायदा हो सकता है। वह जब भी आपके घर से जाने लगे तो उनको जरूर बोले की अगली बार फिर आइयेगा। या बोले और आइयेगा। ऐसा करने से वे खुश होकर जाते है। घर में हमेसा बरकत बनी रहती है।

Back to top button