मायानगरी

इस सुपरस्टार की फिल्में आज कमाती हैं करोड़ों, कभी पत्नी संग बेचते थे लिट्टी चोखा

जिसका इरादा नेक होता है तो किस्मत भी उनका साथ देती है. दुनिया में ऐसे बहुत से उदाहरण आपको देखने को मिल जाएंगे जिन्होंने अपनी जिंदगी में बहुत संघर्ष किया और सफलता भी पाई. आपने आज तक कई बिजनेसमैन या बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के संघर्ष से लेकर सफलता तक की कहानी सुनी होगी लेकिन आज हम आपको भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव के बारे में बताने जा रहे हैं. आज लाखों-करोड़ों कमाती हैं इस सुपरस्टार की फिल्में, जबकि खेसारी एक बहुत ही साधारण से परिवार से ताल्लुख रखते हैं और आज भी अपनी बिहार की मिट्टी से जुड़े हुए हैं. पिछले 10 सालों में खेसारी लाल ने अपना करियर कुछ इस तरह बनाया है जिसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा. एक समय था जब इनका चयन बीएसएफ में भी हो गया था लेकिन इनकी किस्मत फिल्मों में आनी थी तो वहां कैसे काम कर सकते थे.

आज लाखों-करोड़ों कमाती हैं इस सुपरस्टार की फिल्में

भोजपुरी सिनेमा के पॉपुलर एक्टर खेसारी लाल यादव पिछले 10 सालों से भोजपुरी फिल्मों में धमाल मचा रहे हैं. एक कार्यक्रम के दौरान खेसारी लाल ने खुद बताया था कि पहले वह बिहार के छपरा शहर में दूध बेचा करते थे, फिर अपनी पत्नी के साथ लिट्टी-चोखा की दुकान भी चलाते थे और साथ ही गायन पार्टी में किसी ना किसी पार्टी में जाकर गाया करते थे. खेसारी लाल ने बताया कि उनका सिलेक्शन बीएसएफ में हो गया था परिवार में सभी खुश थे और मिठाई बांट रहे थे लेकिन खेसारी लाल का मन गायन और अभिनय में लगता था. खेसारी ने नौकरी ज्वाइन तो की लेकिन वहीं से अपना रास्ता बदल लिया और दिल्ली आ गए.

बीएसएफ की नौकरी में खेसारी का दिल नहीं लगता था और वहां से इस्तीफा देने के बाद वो दिल्ली आ गए और यहां पर आकर अपने एल्बम निकालने के लिए रात-दिन मेहनत करने लगे. यहां पर खेसारी ने हर छोटी-बडी़ कंपनी के चक्कर काटे लेकिन उन्हें दिलासे के सिवाय कुछ भी हासिल नहीं हो रहा था. दिल्ली में जब कोई काम नहीं मिला तब इन्होंने हारकर अपनी पत्नी के साथ ही लिट्टी-चोखा का ठेला लगाना शुरु कर दिया. करीब 12 हजार रुपये जमा करने के बाद वो अपने एल्बम की रिकॉर्डिंग कराने पहुंच गए. खेसारी लाल ने आगे बताया कि वो अपनी दुकान पर आने वाले लोगों को अपने गाने भी सुनाया करते थे.

ऐसे शुरु हुई सफलता की कहानी

खेसारी लाल की पहली एल्बम माल भेटाई मेला जब आया तब लोगों ने इसे खूब पसंद किया और पूरे बिहार में धमाल मच गया. लोगों की नजरों में खेसारी लाल आने लगे और उनके एल्बम एक के बाद एक हिट होने लगे. इसके बाद साल 2011 में खेसारी लाल को पहली फिल्म साजन चले ससुराल में काम मिला और इस फिल्म ने रातों-रात खेसारी लाल को सुपरस्टार बना दिया. इसके बाद खेसारी लाल ने लगभग 50 फिल्मों में किया और अब पूरे भारत में इनकी पॉपुलरैरिटी देखने को मिलने लगी है. खेसारी का मानना है कि उनके घर में उनकी बेटी के रूप में लक्ष्मी ने जन्म लिया है और उसके जन्म के बाद ही उनकी मेहनत रंग लाई और वो सुपरस्टार बन गए.

Back to top button