मायानगरी

करीना ने बरसों बाद सुनाई दर्दभरी दास्तान, बोलीं- माँ और बहन रातभर रोते थे और मैं…

इस दुनिया में सफल होने का सिर्फ एक ही मंत्र हैं कि आप हर हाल में आगे बढ़ते रहे और मेहनत से कभी घबराए नहीं. आपकी लाइफ में चाहे कितनी भी बड़ी मुसीबत क्यों ना आ जाए आपको उससे घबराना नहीं हैं और जीवन में आगे बढ़ते चले जाना हैं. दुःख और परेशानी हर किसी के जीवन में आते हैं. फिर वो व्यक्ति गरीब हो या अमीर. इससे कोई भी नहीं बच पाता हैं. कई बार जीवन में सफल होने के लिए त्याग और बलिदान देने की भी जरूरत पड़ती हैं. आप भविष्य में क्या बनते हो ये पूरी तरह से आपके ऊपर ही निर्भर करता हैं. मसलन बॉलीवुड के स्टार किड्स को ही ले लीजिए. इस इंडस्ट्री में सालो से ना जाने कितने स्टार किड्स ने अपनी किस्मत आजमाई हैं. लेकिन यहाँ सफल सिर्फ वही हो सका हैं जो मेहनत करता रहा और मुश्किलों के सामने हार नहीं माना.

ऐसी ही दो स्टार किड्स बहने हैं करीना और करिश्मा कपूर. ये दोनों ही अभिनेत्रियाँ अपने समय की टॉप की एक्ट्रेस रही हैं. दर्शको ने इन्हें खूब प्यार दिया हैं. जहाँ एक तरफ करिश्मा 90 के दशक में काफी पॉपुलर रही तो वहीँ दूसरी और उनकी छोटी बहन करीना अभी भी फिल्मों में सक्रीय हैं और लोगो के द्वारा पसंद की जाती हैं. हालाँकि इन दोनों बहनों के लिए ये सफलता हासिल करना इतना आसान भी नहीं था. खासकर कि बड़ी बहन करिश्मा को काफी स्ट्रगल करना पड़ा हैं.

दरअसल हाल ही में करीना ने अपने बीते समय से जुदा एक दिल का दर्द लोगो के साथ बयां किया हैं. उन्होंने बताया कि कैसे वे रातभर अपनी माँ बबिता और बहन करिश्मा को रोते हुए देखा करती थी. करीना ने कहा कि वे उस दौरान काफी छोटे थी इसलिए कुछ कर नहीं पाती थी बस बेबस और लाचार होकर अपनी माँ और बहन की आँखों से आँसू बहते हुए देखा करती थी. करीना बताती हैं कि ये उस समय की बात हैं जब उनके दादा राज कपूर का निधन हो गया था. ऐसे में उनकी माँ और बहन रोया करती थी. उस दौरान करीना उन्हें रातभर बेबस और लाचार होकर देखा करी थी. वो खुद को बहुत असहाय महसूस करती थी.

इधर उन्हें बेटी करिश्मा को इंडस्ट्री में एक्ट्रेस बनाने की भी चिंता सताया करती थी. वे बताती हैं कि करिश्मा के एक्ट्रेस बनने में उनकी माँ बबिता के संघर्ष का अहम रोल रहा हैं. यदि उनके दादा राज कपूर जिन्दा होते तो शायद करिश्मा और माँ को इतना संघर्ष ना करना पड़ता. लेकिन मेरी माँ ने हार नहीं मानी और करिश्मा को किसी भी तरह एक सफल एक्ट्रेस बना ही दिया. करिश्मा के एक्ट्रेस बनने के बाद करीना की राह भी आसान हो गई. उन्हें फिल्मो में आने के लिए अपनी बहन जितना स्ट्रगल नहीं करना पड़ा. करना बताती हैं कि आज भी जब वे इन बीते दिनों को याद करती हैं तो उनकी आँखों से आंसू झलक जाते हैं.

हर किसी की लाइफ में एक दौर ऐसा जरूर आता हैं जब भगवान उसकी परीक्षा लेता हैं. ऐसे में आपको इस परीक्षा में पास होने की कोशिश करना चाहिए ना कि हाथ पर हाथ धरे मायूस होकर बैठ जाना चाहिए.

Back to top button