जरा हट के

जोक्स: बैंक में लगी लाइन के पास पहुंचा भिखारी और लास्ट में खड़े आदमी से भीख मांगने लगा…

हिंदी साहित्य में नव रस माने गये हैं| हास्य रस उनमें से एक है| हास्य एक ऐसीपूँजी है जो हंसने वाले को तो स्वस्थ बनाती ही है, आस-पास वालों को भी मालामाल कर देतीहै| हास्य रस का आनंद लेने के लिए आवश्यक है कि आपके आस-पास सकारात्मक उर्जा वाले लोग हो जो सर्वदा माहौल को खुशनुमा बनाये रखे| आज के आपाधापी के युग में इतना समय किसीके पास नहीं कि वो ऐसे मित्र खोजने जाये| तो हमारे पास हास्य रस के कवि, चार्ली चैपलिन,मिस्टर बीन सरीखे   किरदार , पुस्तकें और इंटरनेटपर  मनोरंजक सामग्री सुलभ है| वर्तमान में अधिकांशलोग तनाव व अनिद्रा से पीड़ित है | ये लक्षण आगे चलकर रक्तचाप, मधुमेह, एसिडिटी जैसी बीमारियों में बदल जाते है| अत: अगरकिसी को स्वस्थ रहना है तो मुफ्त का इलाज है हँसते रहिये| परिस्थितियाँ तो अस्थायीहै पर हमें अपनी हंसी स्थाई रखनी चाहिए| ये रामबाण और अचूक उपचार है|

आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव से मुक्त होने के लिए लोग तरह-तरह की चीजे करते है। कोई गाने सुनता है तो कोई फिल्मे देखने जाता है। लेकिन कुछ ऐसे लोग भी है जो सिर्फ चुटकुले के जरिये अपने टेंशन को भगाते है, इसलिए अगर आप भी चुटकुले के शौक़ीन है तो हम आपके लिए लाये है कुछ  बेहतरीन चुटकुले जिसे पढ़कर आप लोटपोट हो जायेंगे…

संता बुरी तरह बीमार हो गया,डॉक्टर से दवाई लेकर घर आया,
बीवी – क्या बताया डॉक्टर ने?संता – डॉक्टर ने बोला है कि
सोते समय टेंशन साथ लेके मत सोया करो,बीवी – मतलब?
संता – मतलब कमबख्त, रोज तुझे ही तो साथ लेकर सोता हूँ.

बिटू- प्यार हो जाता है या करना पड़ता है?

चिंटू- ये तो परिस्थिति पर निर्भर करता है. बिटू- वो कैसे?

चिंटू- लड़की सुन्दर हो और स्कूटी पर हो, तो हो जाता है.

लेकिन लड़की बदसूरत हो पर मर्सिडीज में हो, तो करना पड़ता है

 

संता और बंता एक बार अंग्रेजी में कोई फॉर्म भर रहे थे

उसमें एक प्रश्न था, “जोडिएक साइन”

बंता को इसका मतलब नहीं पता था तो उसने संता के फॉर्म में देखा ,संता ने लिखा था- कैंसर

अब बंता क्या करता, उसने भी लिख दिया “लूज मोशन”.

आदमी ससुराल में खाना खाते वक़्त: आज खाना सासू माँ ने बनाया है क्या?

बीवी– अरे वाह! कैसे पहचाना?

आदमी– अरे जब तुम बनाती थी तो खाने में से काले बाल निकलते थे।

आज सफ़ेद बाल निकला है।

 

लड़का- तुम लड़किया लव मैरिज क्यों करती हो?

लड़की- अनजान नमूना मिलने से अच्छा है,जाना पहचाना कमीना मिल जाये..!

लड़की- तुम लड़के लव मैरिज क्यों करते हो..?

लड़का- एनाकोंडा मिलने से अच्छा है की पहले से पाली हुई नागिन मिले..!

 

जो लड़किया बोलती है की..

मेरे पीछे बहुत लड़के घूमते हैं…

उन लड़कियों को ये बात पता नहीं होती की..

कम दाम की चीजों पे ज्यादा Customers attract होते हैं

 

टीचर – तुम कल स्कूल क्यों नहीं आये थे ?लड़का – जी वो,
कल मेरे घर में पूजा थी टीचर – तो परसों क्यों नहीं आये थे ?

लड़का – जी परसों मेरे घर प्रिया थी   टीचर बेहोश

 

टीचर – दुर्भाग्य और दुर्दशा में क्या फर्क है ?

बच्चा – सर अगर इस स्कूल में आग लग जाये

तो स्कूल की हालत खराब हो जाएगी इसे कहते है – “दुर्दशा”और इतनी आग लगने पर भी आप जिन्दा बच गए तो

ये होगा हमारा “दुर्भाग्य”  टीचर बेहोश

 

भगवान का दिया कुछ भी तो नहीं है

ना दौलत है..ना शौहरत है.. और ना ही सेटिंग है..

एक रीबॉक का टोपा था साला
उसे भी छत से बंदर उठा के ले गया

BSNL का इंटरनेट नहीं चल रहा था,पप्पू ने कस्टमरकेयर में कॉल किया

पप्पू – हैल्लो कस्टमरकेयर – बताइये सर हम कैसे आपकी मदद कर सकते हैं

पप्पू – 5 दिन

से मेरा इंटरनेट नहीं चल रहा है, मैं क्या करूं ? कस्टमरकेयर – सर तबतक कोई और काम कर लीजिये
पप्पू बेहोश

Back to top button