नौकरी : BCCI ने मंगाए नेशनल सिलेक्टर के लिए आवेदन, एक क्लिक में लीजिये जानकारी

0
43

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने नेशनल मेंस सिलेक्शन कमेटी और जूनियर सिलेक्शन कमेटी में दो रिक्त पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। एमएसके प्रसाद और गगन खोड़ा का पांच साल का टर्म पूरा हो रहा है जिसके चलते ये पद खाली हो रहे हैं। सिलेक्टर्स को चुनने के लिए एक क्रिकेट सलाहकार समिति का भी गठन किया जाएगा।

BCCI के नोटिफिकेशन के अनुसार, सीनियर सिलेक्टर के पद पर आवेदन करने वालों के पास सात टेस्ट मैच या 30 प्रथम श्रेणी मैच या 10 वनडे और 20 प्रथम श्रेणी मैच खेलने का अनुभव होने चाहिए। उनकी आयु भी 60 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। जबकि जूनियर सिलेक्टर की भूमिका के लिए, उम्मीदवार के पास न्यूनतम 25 प्रथम श्रेणी मैच का अनुभव होना चाहिए और पांच साल पहले रिटायर होना चाहिए। आवेदन करने का अंतिम दिन 24 जनवरी है।

CAC में नियुक्त होंगे गंभीर और मदन लाल
इससे पहले खबर आई थी कि BCCI मदन लाल और गौतम गंभीर को क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) के सदस्यों के रूप में नियुक्त करने के लिए पूरी तरह तैयार है। ये समिति 2020 से शुरू होने वाले अगले चार साल के साइकल के लिए चयन समितियों को चुनेगी। पैनल की तीसरी सदस्य सुलक्षणा नाइक हैं, जिन्होंने देश के लिए दो टेस्ट और 46 वनडे मैच खेले हैं।

1983 वर्ल्ड कप टीम के हीरो हैं मदन लाल
मदन लाल ने 1974 से 1987 के बीच 39 टेस्ट और 67 वनडे खेले हैं। लाल 1983 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के हीरो है। उन्होंने वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में तीन विकेट चटकाए थे। सबसे वरिष्ठ सदस्य होने के कारण मदन लाल समिति के प्रमुख होंगे, जबकि 2011 विश्व कप के नायक गंभीर तीसरे सदस्य के साथ उनकी सहायता करेंगे।

क्या कहा था मदन लाल ने?
मदन लाल से जब उनके CAC के सदस्य के रूप में नियुक्ति को लेकर सवाल किया गया था तो उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि मेरी ओर से कोई औपचारिक टिप्पणी करना उचित है या नहीं, क्योंकि बीसीसीआई ने अभी इसकी घोषणा नहीं की है।’ चूंकि उनका एक टीवी चैनल के साथ क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में अनुबंध हैं, इसलिए कॉन्फ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘मुझे पहले अपना अपॉइंटमेंट लेटर मिल जाने दीजिए। अपॉइंटमेंट लेटर में और जाहिर तौर पर संदर्भ और दिशानिर्देश दिए होंगे।’

खोजना होगा रिप्लेसमेंट
CAC को एमएसके प्रसाद (दक्षिण) और गगन खोड़ा (मध्य) का रिप्लेसमेंट खोजना होगा क्योंकि उनका चार साल का कार्यकाल खत्म हो रहा है। जबकि सरनदीप सिंह (उत्तर), देवांग गांधी (पूर्व) और जतिन परांजपे (पश्चिम) के चार साल के कार्यकाल में एक साल बाकी है इसलिए वह सिलेक्शन कमेटी में बने रहेंगे।