ख़बरदेश

नई मुश्किल में लालू परिवार, ‘गायब’ तेजस्वी पर वृद्धजन सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की मांग !

लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से बिहार से लापता तेजस्वी को लेकर अब एक नया बखेड़ा खड़ा हो गया है. जेडीयू ने तेजस्वी यादव पर राज्य सरकार के नये वृद्धजन सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई करने की मांग की है. तेजस्वी पर मां-बाप की सेवा नहीं करने का गंभीर आरोप लग रहा है.

दरअसल, नीतीश सरकार ने दो दिन पहले ही राज्य में वृद्धजन सुरक्षा कानून लागू किया है. इसके तहत बूढ़े मां-बाप की सेवा नहीं करने वाले संतान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का प्रावधान किया गया है. जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि बीमार लालू प्रसाद यादव सजायाफ्ता होकर अस्पताल में भर्ती हैं. वहीं, राबड़ी देवी की भी उम्र हो गयी है. दोनों ने तेजस्वी यादव को अपना वारिस बनाया है. लेकिन तेजस्वी लापता है. स्वाभाविक तौर पर माता-पिता दोनों बहुत कष्ट में होंगे. ऐसे में सरकारी कानून के तहत उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिये. संजय सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन को इस कानून के तहत कार्रवाई करने का अधिकार है. पटना के डीएम और एसडीएम को तत्काल इसका संज्ञान लेकर तेजस्वी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करनी चाहिये.

लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से ही तेजस्वी यादव लापता हैं. राजद के राजकुमार कहां है इसकी खबर किसी को नहीं. चुनाव के दौरान तेजस्वी आरोप लगा रहे थे कि झारखंड सरकार उन्हें अपने पिता से नहीं मिलने दे रही. लेकिन चुनाव के बाद वे रिम्स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद यादव की ओर झांकने तक नहीं गये. इस बीच लालू प्रसाद यादव का जन्मदिन भी आया लेकिन तेजस्वी ने ट्विटर पर शुभकामना देकर कोरम पूरा कर लिया. पटना से लेकर दिल्ली में लालू प्रसाद यादव का जन्मदिन मनाया गया लेकिन तेजस्वी कहीं नजर नहीं आये.

उनकी पार्टी के नेता भी तेजस्वी को लगातार तलाश रहे हैं लेकिन तेजस्वी कहीं नहीं मिल रहे हैं. जेडीयू-बीजेपी के नेता तेजस्वी को तलाशने के लिए पोस्टर-पर्चा लगाने की मांग कर रहे थे. अब उन्होंने कानूनी कार्रवाई की मांग कर दी है.

Back to top button